• POWERED BY

चुनाव का बहिष्कार करेंगे हाजीपुर के लोग

मोरना स्थित सोलानी नदी के किनारे बसे हाजीपुर गांव के लोगों ने पंचायत कर विधानसभा चुनाव का बहिष्कार करने का निर्णय लिया है। जगह-जगह बैनर लगाकर विरोध प्रदर्शन किया। ग्रामीणों का कहना है कि 31 साल बाद भी उनके गांव का नाम राजस्व अभिलेख में ही दर्ज नहीं हो पाया है। ग्रामीणों ने चेतावनी दी है कि नेताओं को गांव में नहीं घुसने देंगे।

JagranWed, 08 Dec 2021 12:02 AM (IST)
चुनाव का बहिष्कार करेंगे हाजीपुर के लोग

मुजफ्फरनगर, टीम जागरण। मोरना स्थित सोलानी नदी के किनारे बसे हाजीपुर गांव के लोगों ने पंचायत कर विधानसभा चुनाव का बहिष्कार करने का निर्णय लिया है। जगह-जगह बैनर लगाकर विरोध प्रदर्शन किया। ग्रामीणों का कहना है कि 31 साल बाद भी उनके गांव का नाम राजस्व अभिलेख में ही दर्ज नहीं हो पाया है। ग्रामीणों ने चेतावनी दी है कि नेताओं को गांव में नहीं घुसने देंगे।

सोलानी नदी के खादर में वर्ष 1990 में आई बाढ़ में हाजीपुर गांव बह गया था। नगर पंचायत भोकरहेड़ी के तत्कालीन चेयरमैन मदनपाल सिंह ने नदी किनारे खोले में नगर पंचायत की भूमि में ग्रामीणों को प्लाट आवंटित किए थे। ग्रामीण झोपड़ी बनाकर रहने लगे और भोकरहेड़ी के बेहड़ा पट्टी मोहल्ले में उनका वोट बनवा दिया। 31 साल बीतने पर भी गांव में कोई सरकारी योजना नहीं पहुंची। गांव में शौचालय, आवास, हैंडपंप, रास्ते, पेंशन आदि विकास तो दूर की बात गांव का नाम सरकारी अभिलेख में भी दर्ज नहीं हुआ। नगर पंचायत भोकरहेड़ी सीमा से बाहर बताते हुए कोई विकास कार्य नहीं करा सकती और गांव किसी क्षेत्र व ग्राम पंचायत में शामिल नहीं है। करीब 1355 की जनसंख्या वाले गांव में 710 मतदाता है। मंगलवार को गांव में सर्वसमाज की पंचायत हुई, जिसमें ग्रामीणों ने शासन-प्रशासन की उपेक्षा के चलते विधानसभा चुनाव का बहिष्कार करने का निर्णय लिया और जगह-जगह बैनर लगाकर विरोध प्रदर्शन किया। ग्रामीणों ने चेतावनी दी है कि वोट मांगने आने वाले नेताओं को गांव में नहीं घुसने देंगे। प्रदर्शन में समय सिंह, रामपाल, श्रीपाल, बालमुकंद, सोमपाल, नीलम, राजकली, जगबीरी, बबीता, रवि, संजीव व शंकर आदि मौजूद रहे। खलासी नहर पुल का निर्माण करवाने की मांग

मुजफ्फरनगर, टीम जागरण। खतौली में भारतीय किसान यूनियन ने फुलत-चंदसीना मार्ग पर खलासी नहर पुल के निर्माण को लेकर तहसीलदार को ज्ञापन सौंपा। बताया कि खलासी पुल का निर्माण अधर में लटका है, जिससे ग्रामीणों को गमनागमन में परेशानी का सामना करना पड़ रहा हैं।

भाकियू नेता सचिन चौधरी व फुलत के प्रधान वसीम अहमद के नेतृत्व में चंदसीना प्रधान के पति लियाकत, जल्फिकार, इरशाद खान, मुजम्मिल, फुरकान मलिक, जावेद व इमरान आदि ने तहसील में एसडीएम जीत सिंह राय के नाम ज्ञापन तहसीलदार आरती यादव को दिया। ज्ञापन में बताया है कि गंग नहर में शोरी मिलने से नहर की स्पेक में मिट्टी का अस्थाई बांध बनाकर खलासी में पानी सप्लाई बंद कर दी गई थी। गंगनहर सिचाई विभाग की देखरेख में बन रहे पुल का निर्माण कार्य अधर में लटका है। ग्रामीणों को गमनागमन और गन्ना वाहन ले जाने में परेशानी का सामना करना पड़ता है। इस मार्ग से रायपुर नंगली, फुलत, चंदसीना, रामपुर, खेड़ी तगान, अंबरपुर, मथेड़ी व मोरकुकका आदि गांवों के लोगों का आना-जाना रहता है। लोगों ने खलासी पुल के शीघ्र निर्माण की मांग की है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.