हमारी चुप्पी को कमजोरी न समझें : नरेश टिकैत

मुजफ्फरनगर जेएनएन। भाकियू की मासिक पंचायत में भाकियू राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत ने

JagranFri, 17 Sep 2021 11:50 PM (IST)
हमारी चुप्पी को कमजोरी न समझें : नरेश टिकैत

मुजफ्फरनगर, जेएनएन। भाकियू की मासिक पंचायत में भाकियू राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत ने कहा कि संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर पांच सितंबर की पंचायत में सभी ने तन मन धन से सहयोग करने पर बधाई देते हुए कहा कि सरकार हमारी चुप्पी को कमजोरी न समझे। वह झंडे भी नहीं लगने देंगे। उन्होंने किसानों से कहा कि दोबारा भाजपा सरकार आई तो सब प्राइवेट के हाथों में चला जाएगा।

चौ. नरेश टिकैत ने भाजपा सरकार पर कटाक्ष करते हुए कहा कि यह इतना बड़ा अजगर है, पता नहीं इसने कितने निगल लिए। पूरे भारत पर अपना कब्जा कर लिया। हमारे में कुछ जयचंद भाई भी हैं जो अपने को इतना बड़ा मान लेते हैं। उनकी कुछ बात नहीं बनेगी। वह हमारी कमजोरी न मानें। हम शीघ्र कुछ न कुछ निर्णय लेने वाले हैं। पानी में रहकर मगरमच्छ से बैर, नहीं चलेगा।

उन्होंने कहा कि सरकार ने सब सामान बेच दिया। आप लोगों के लिए कुछ नहीं छोड़ा। सब प्राइवेट हाथों में चला जाएगा। अल्लाह हू अकबर, हर-हर महादेव के नारे पर बात चली, सब बराबर हो गए। उन्होंने कहा कि यह बात कान खोलकर सुन लो। इनकी साथ दस हैं तो हमारी साथ दस हजार हैं। हमने पहले भी रोक नहीं की थी। हमने कहा था कि विरोध चल रहा है, गांवों में कम एंट्री करो। उसे तरोड़ मरोड़ कर बवाल बना दिया। बात कहीं की कहीं पहुंचा दी। पंजाब, हरियाणा में गन्ना रेट तय हो गया। हरियाणा में बिजली कितनी सस्ती है। सरकार बर्बाद कर देगी। 2022 में सरकार आ गयी तो कोई नहीं बचेगा। उन्होंने कहा कि डर वाली बात मन से निकाल दो। कुछ भी बात हो सब एक दम इकट्ठा हो जाओ। एसएसपी का हम हर बात में बहुत सहयोग करते हैं। एक माह से हमारी बात नहीं हुई। हमने भी उसे फोन नहीं किया। 27 सितंबर का कार्यक्रम नियत समय पर होगा। एक कार्यक्रम में चौधरी अजित सिंह की पगड़ी जयंत चौधरी को पहनाई जाएगी। पंचायत में बड़ी संख्या में किसान शामिल रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.