एनकाउंटर से गुस्सा शांत..हैदराबाद पुलिस से जनता खुश

एनकाउंटर से गुस्सा शांत..हैदराबाद पुलिस से जनता खुश
Publish Date:Fri, 06 Dec 2019 10:15 PM (IST) Author: Jagran

मुजफ्फरनगर, जेएनएन। हैदराबाद कांड को लेकर लोगों में फैला आक्रोश शुक्रवार को चारों अपराधियों के मारे जाने की खबर से शांत होता दिखा। शहर के बाजारों से लेकर कॉलेज आदि स्थानों पर हैदराबाद पुलिस की कार्रवाई की तारीफ होती रही। महिला वर्ग ने तो अपराधियों को सही सजा मिलने पर पूरी तरह मुहर लगाते हुए देश में दरिदगी फैलाने वालों के लिए इसी प्रकार कार्रवाई करने का कानून बनाए जाने की मांग कर दी। महिलाओं व युवतियों ने बेबाक कहा कि पुलिस की गोलियों से ढेर हुए चारों आरोपियों को सजा मिलने से पीड़िता को इंसाफ मिला और देश को खुशी। वहीं अपराधियों में पुलिस का डर भी पैदा हुआ है।

हैदराबाद पुलिस ने जो कदम उठाकर पीड़िता को इंसाफ दिया है। उससे महिलाएं खुद को सुरक्षित महसूस कर रही है। वहीं इस प्रकार की कार्रवाई होने के बाद अपराधियों में खौफ पैदा होगा, जिससे इस प्रकार की घटनाओं पर विराम लगेगा। आरोपियों के मारे जाने की खबर से महिलाओं में प्रशासन के प्रति भी इंसाफ जगा है।

शिप्रा सिघल, शिक्षिका

हमने फिल्मों में कई बार देखा है कि हैदराबाद कांड जैसे आरोपियों को पुलिस की गोलियों से जवाब दिया जाता है। शुक्रवार को टीवी पर खबर मिली कि चारों आरोपियों को पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराया। इससे पता चला कि हमारे देश में अपराधियों को सबक सिखाने के लिए ज्यादा इंतजार की जरूरत नही है। पुलिस का कदम सही है।

गगनप्रीतकौर, शिक्षिका

हैदराबाद पुलिस ने शुक्रवार को बहुत अच्छा कदम उठाया है। इस कदम से हैदराबाद जैसी घटना को अंजाम देने वाले लोगों में कम से कम पुलिस की गोलियों का खौफ पैदा होगा। हालांकि कि उनका मौके से भागने पर एनकाउंटर हुआ, लेकिन भगवान ने उनको सही सजा दिलाई है।

मोनिका राठी, शिक्षिका

चारों आरोपियों का एनकाउंटर होने से लोगों में हैदराबाद की घटना को लेकर बढ़ रहे गुस्से पर विराम लगा है। ऐसी घटना करने वाले आरोपियों के लिए पुलिस की गोलियां ही सही जवाब है। इससे केवल पीड़िता को ही इंसाफ नही मिला, बल्कि अपराधियों में भी पुलिस और प्रशासन के खिलाफ डर बैठा होगा।

आकांशा पाल, शिक्षिका

हैदराबाद पुलिस ने चारों आरोपियों का एनकाउंटर कर अपराधियों को संदेश दे दिया है कि उनके लिए यही सजा सही है। पुलिस द्वारा उठाए गए कदम से कोई भी व्यक्ति नाखुश नहीं होगा। अपराधियों को संदेश भी दिया गया कि वें जैसा करेंगे, उन्हें उसी रूप में सजा दी जाएगी।

शिवानी सचदेवा, अधिवक्ता

हैदराबाद की घटना के बाद उसके आरोपियों को मिली सजा से सभी सहमत है। हमारे देश में इस प्रकार की घटना में लिप्त अपराधियों के लिए कुछ ऐसा ही कानून बना देना चाहिए। इससे अपराधी घटना को अंजाम देने से पहले जरूर सोचेंगे और देश की बेटियां भी सुरक्षित रहेगी।

संपदा अग्रवाल, छात्रा

हैदराबाद जैसी घटना करने वाले आरोपियों को सही सजा मिली है। इससे अपराधियों में प्रशासन का खौफ पैदा होगा। निर्भया कांड में भी सरकार को त्वरित कार्रवाई की जरूरत है, जिससे निर्भया के परिजनों को भी इंसाफ मिल सके।

संतोष आनंद, गृहणी

हमारे देश में हैदराबाद जैसी घटना में जो फैसला अब लिया गया। वह सराहनीय और अपराधियों को कड़ा संदेश देने वाला है। किसी की जिदगी बरबाद कर उनके घर को बरबाद करने वाले आरोपियों को हैदराबाद पुलिस ने सही सजा दी है। इससे अपराध करने से पहले अपराधी कई बार सोचेंगे।

पूनम, छात्रा

हैदराबाद की घटना को लेकर सभी चितित थे। आरोपियों की सजा के लिए जो दुआएं की जा रही थी। वह पुलिस की गोलियों ने पूरी कर दी। महिलाएं पुलिस की कार्यप्रणाली से संतुष्ट है। अपराधी भाग जाते तो न जाने ओर कितनी घटनाओं का अंजाम देते।

दीपा पाल, लाइब्रेरियन

पुलिस ने कोई गुंजाइश ही नहीं छोड़ी कि अपराधियों की कोई पैरवी भी कर सके। जितना भी यही चाहती थी कि अपराधियों को सख्त सजा मिले। अब उन्हें कोर्ट सजा देता तो उसके लिए इंतजार करना पड़ता। पुलिस ने एनकाउंटर कर अपराधियों में भय भी पैदा कर दिया।

श्रद्धा, छात्रा

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.