स्कूल के अध्यापक के खिलाफ कार्रवाई को लेकर प्रदर्शन

जानसठ के गढ़ी गांव में प्रधानाध्यापक व गांव प्रधान में तनातनी बढ़ती जा रही है। गांव प्रधान ने अध्यापक के खिलाफ कार्रवाई को लेकर प्रधानों संग जाकर तहसीलदार व एबीएसए को ज्ञापन दिया है।

JagranPublish:Mon, 29 Nov 2021 11:27 PM (IST) Updated:Mon, 29 Nov 2021 11:27 PM (IST)
स्कूल के अध्यापक के खिलाफ कार्रवाई को लेकर प्रदर्शन
स्कूल के अध्यापक के खिलाफ कार्रवाई को लेकर प्रदर्शन

जेएनएन, मुजफ्फरनगर। जानसठ के गढ़ी गांव में प्रधानाध्यापक व गांव प्रधान में तनातनी बढ़ती जा रही है। गांव प्रधान ने अध्यापक के खिलाफ कार्रवाई को लेकर प्रधानों संग जाकर तहसीलदार व एबीएसए को ज्ञापन दिया है।

दो दिन पहले गढ़ी गांव के प्राइमरी स्कूल के प्रधानाध्यापक के स्कूल देर से पहुंचने और पूरा वाकया इंटरनेट मीडिया पर वायरल होने के बाद गांव प्रधान जावेद का उसने विवाद गहराता जा रहा है। गांव प्रधान जावेद ने ब्लाक के प्रधानों को साथ लेकर प्रधानाध्यापक पर कार्रवाई करने के लिए एसडीएम को ज्ञापन देने पहुंचे। एसडीएम के न मिलने पर उन्होंने तहसीलदार को ज्ञापन दिया। बाद में सभी प्रधान एबीएसए सविता डबराल से मिलने पहुंचे और अध्यापक के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। एबीएसए ने जांच कर कार्रवाई का आश्वासन दिया है। प्रधानों में जावेद, राजू धीमान व राजकुमार शर्मा आदि समेत कई प्रधान उपस्थित रहे। पिमौड़ा गांव के लोग पानी की निकासी को लेकर परेशान

जेएनएन, मुजफ्फरनगर। जानसठ के पिमौड़ा गांव में रास्ते में जलभराव की समस्या के चलते लोगों का निकलना दूभर होता जा रहा है। प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंचे और दोनों पक्षों से बात की, लेकिन फिलहाल मामले का कोई समाधान नहीं निकल पाया है।

पिमौड़ा गांव के एक रास्ते पर विवाद के चलते गलियों का गंदा पानी रास्ते पर भरा रहता है, जिसके चलते लोगों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। विवाद के चलते राजस्व अधिकारियों की टीम सोमवार को गांव में पहुंची और समाधान करने की कोशिश की, लेकिन कोई समाधान नहीं निकला। ग्रामीणों का आरोप है कि कुछ लोगों की हठधर्मिता के चलते समाधान नहीं हो सका है। ग्रामीणों का आरोप है कि गंदगी के कारण बीमारी फैलने का खतरा बना हुआ है। उन्होंने इसका समाधान करने की मांग की है।