शिक्षा के मंदिरों में 11 माह बाद खिलखिलया बाल मन

शिक्षा के मंदिरों में 11 माह बाद खिलखिलया बाल मन

कोरोना संक्रमण के चलते 11 माह बाद पांचवीं तक के विद्यालयों में रौनक लौटी है। सोमवार को पहली और पांचवीं कक्षाओं के बच्चे शिक्षा के मंदिरों में पहुंचे। शिक्षक-शिक्षिकाएं स्वागत के लिए गेट पर खड़े मिले। बच्चों को तिलक लगाकर आरती उतारी गई और फूल-मालाओं से स्वागत किया। कक्षाओं में बच्चों को उपहार दिए जिससे बाल मन खिल उठा। विद्यालयों में मास्क और सैनिटाइजर की व्यवस्था रही।

JagranMon, 01 Mar 2021 10:05 PM (IST)

जेएनएन, मुजफ्फरनगर। कोरोना संक्रमण के चलते 11 माह बाद पांचवीं तक के विद्यालयों में रौनक लौटी है। सोमवार को पहली और पांचवीं कक्षाओं के बच्चे शिक्षा के मंदिरों में पहुंचे। शिक्षक-शिक्षिकाएं स्वागत के लिए गेट पर खड़े मिले। बच्चों को तिलक लगाकर आरती उतारी गई और फूल-मालाओं से स्वागत किया। कक्षाओं में बच्चों को उपहार दिए, जिससे बाल मन खिल उठा। विद्यालयों में मास्क और सैनिटाइजर की व्यवस्था रही। शारदेन व माउंट लिट्रा में गेट पर स्वागत

शारदेन स्कूल में बच्चों का शिक्षकों ने मुख्य द्वार पर स्वागत किया। तिलक लगाकर आरती उतारी गई। शिक्षिकाओं ने क्लास में उपहार दिए। स्कूल डायरेटर विश्व रतन और प्रधानाचार्य धारा रतन ने मेधावी छात्रों को सम्मानित किया। वहीं माउंट लिट्रा •ाी स्कूल में कक्षा एक से पांचवीं तक के छात्रों का स्वागत किया गया। स्कूल निदेशक चारु भारद्वाज, प्रधानाचार्य डा. पीयूष गुप्ता व शैक्षिक निदेशक प्रिया कौशिक ने छात्रों को कोरोना से बचाव की जानकारी दी।

स्कूलों में पहुंचने पर बच्चों का स्वागत

भोपा : न्याय पंचायत गादला के बरूकी गांव स्थित प्राथमिक विद्यालय में सोमवार को कक्षा एक व पांच के छात्र-छात्राएं विद्यालय में पहुंचे तो इंचार्ज अध्यापक डा. अनुज कुमार ने स्वागत किया। प्रवेश से पहले मास्क और सैनिटाइजर का प्रयोग करते हुए उचित दूरी पर बैठाया।

स्कूल खुलने से छात्रों के चेहरे खिले

चरथावल : सैदपुरा सहित अन्य क्षेत्रों के प्राथमिक विद्यालय में कक्षाएं शुरू हुई। विद्यालय को रंगोली, फूलों व गुब्बारों से सजाया गया और अभिभावकों की सहमति के आधार पर उन्हें कक्षाओं में प्रवेश दिया गया। स्कूल में आने वाले बच्चों को गिफ्ट देकर उनका उत्साहवर्धन किया गया और कहानी-कविता के माध्यम से बच्चों का ज्ञानवर्धन किया गया।

बच्चों को थर्मल स्क्रीनिग कर मास्क बांटे

बुढ़ाना : सोमवार से पुन: कक्षाएं शुरू होने पर सामाजिक संस्थाओं के पदाधिकारियों ने बच्चों की थर्मल स्क्रीनिग, मास्क व अन्य जानकारी प्रदान की। इंडियन रेडक्रास सोसाइटी के पदाधिकारियों व शक्ति चैंपियन के साथ कार्यकर्ताओं ने प्राथमिक विद्यालय भैसाना व प्राथमिक विद्यालय मदीनपुर में छात्र- छात्राओं के प्रथम आगमन पर उनका स्वागत किया। इस दौरान बच्चों के बीच शारिरिक दूरी के साथ थर्मल स्क्रीनिग कर मास्क वितरित किए गए।

पाठशाला में खिलखिलाया बाल मन

खतौली : देशव्यापी लाकडाउन के कारण प्राइमारी पाठशालाओं के कपाट भी बंद हो गए थे। अनलाक होने के बाद व्यवस्थाएं पटरी लौटने लगी तो विद्यालय भी खुलने प्रारंभ हो गए। सोमवार से प्राइमरी स्कूलों में भी शिक्षण कार्य शुरू किया गया। पहले दिन पहुंचे बच्चों का शिक्षिकाओं ने तिलक लगाया और मिष्ठान खिलाकर उन्हें कक्षा में प्रवेश दिलाया। पहले दिन स्कूलों में कविता पाठ किया गया। लोहड्डा के प्राथमिक विद्यालय में नीतू रानी, शिल्पी वर्मा, अनुराधा चौहान, जमाल अहमद, शरद शर्मा, पारुल व अंबिका त्यागी आदि रहे।

रंगोली से सजे विद्यालय

संवाद सूत्र, पुरकाजी : सोमवार को क्षेत्र के सभी प्राथमिक स्कूल खुल गए। कस्बे के जीटी रोड स्थित उच्च प्राथमिक विद्यालय के प्रधानाध्यापक मुकेश शर्मा ने बताया कि स्कूल आने वाले बच्चों को माला पहनाकर तथा पुष्प भेंटकर स्वागत किया गया। स्कूल परिसरों को गुब्बारों व झंडियों से सजाया गया। फर्श पर सुंदर रंगोली बनाई गई।

कक्षा पहली में 41 व पांचवीं में 51 फीसदी उपस्थिति

जेएनएन, मुजफ्फरनगर। जिले के प्राथमिक और कम्पोजिट विद्यालय खुलने के बाद बीएसए ने विद्यालयों में पहुंचे बच्चों की उपस्थिति का डाटा एकत्रित कराया है। बीएसए मायाराम ने बताया कि सोमवार को कक्षा एक और पांचवीं के विद्यार्थियों की संख्या 50 प्रतिशत से कम रही। जिले में प्राथमिक और कम्पोजिट विद्यालय में कक्षा एक में 15400 बच्चे पंजीकृत हैं, जिसमें सोमवार को 3157 छात्र-छात्राएं विद्यालय पहुंचे। वहीं कक्षा पांचवीं के लिए 20907 छात्र पंजीकृत हैं, जिसमें 5317 छात्र-छात्राएं विद्यालय में पहुंचे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.