कृषि कानूनों के विरोध में छपार-रोहाना टोल प्लाजा पर भाकियू का धरना जारी

कृषि कानूनों के विरोध में भारतीय किसान यूनियन (भाकियू) का धरना छपार टोल प्लाजा पर 18वें दिन भी जारी रहा। पदाधिकारियों ने कहा कि खादर क्षेत्र में प्रतिवर्ष बाढ़ आने से फसलें नष्ट हो जाती है जिससे किसान बर्बाद हो चुका है।

JagranSat, 12 Jun 2021 11:39 PM (IST)
कृषि कानूनों के विरोध में छपार-रोहाना टोल प्लाजा पर भाकियू का धरना जारी

जेएनएन, मुजफ्फरनगर। कृषि कानूनों के विरोध में भारतीय किसान यूनियन (भाकियू) का धरना छपार टोल प्लाजा पर 18वें दिन भी जारी रहा। पदाधिकारियों ने कहा कि खादर क्षेत्र में प्रतिवर्ष बाढ़ आने से फसलें नष्ट हो जाती है, जिससे किसान बर्बाद हो चुका है।

नेशनल हाईवे-58 पर स्थित छपार टोल प्लाजा पर भाकियू का बेमियादी धरना शनिवार को भी जारी रहा। भाकियू के पुरकाजी ब्लाक अध्यक्ष मांगेराम त्यागी ने कहा कि कृषि कानूनों से किसान बर्बाद हो जायेगा, जिसके विरोध में छह माह से देशभर का किसान सड़कों पर उतरकर आंदोलन कर रहा है। फिर भी सरकार कोई सुनवाई नहीं कर रही है। कृषि कानूनों की वापसी तक धरना जारी रहेगा।

उन्होंने कहा कि बाढ़ पुरकाजी खादर क्षेत्र की प्रमुख समस्या है। बरसात में उत्तराखंड से नहर का पानी सोलानी नदी में छोड़ दिया जाता है। खादर में लोगों के घरों व खेतों में पानी भर जाता है। बाढ़ आने के बाद प्रशासनिक अधिकारी वहां पर पहुंचकर नाव लगाते हैं। परंतु पूर्व में बचाव का कोई कार्य नहीं किया जाता है। फसलें नष्ट हो जाती हैं। बाढ़ से खादर क्षेत्र बर्बाद हो चुका है और किसान कर्ज में डूबा हुआ है और सिचाई विभाग के अधिकारी मलाई काट रहे हैं। प्रति वर्ष नालों की सफाई के लिए करोड़ों रुपये का बजट आता है परंतु अधिकारी धनराशि हजम कर जाते हैं और कागजों में सफाई दिखा देते हैं। उन्होंने कहा कि अगर इस वर्ष भी सोलानी में पानी छोड़ा गया तो भाकियू विरोध करेगी। अगर सिचाई विभाग ने शीघ्र ही नालों की सफाई न कराई तो भाकियू नालों के कूड़े सिचाई विभाग के कार्यालय में भरेगी। ब्लाक उपाध्यक्ष बूटा सिंह ने कहा कि शेरपुर चौकी इंचार्ज किसानों के उत्पीड़न में लगे हैं। अगर पुलिस ने उत्पीड़न बंद नहीं किया तो भाकियू शेरपुर चौकी का घेराव कर धरना-प्रदर्शन करेगी। सरदार गुरजीत सिंह, अमरेंद्र सिंह, अंग्रेज सिंह, रणजीत सिंह, मेजर सिंह, धीर सिंह, शहजाद त्यागी, राशिद त्यागी, ललित त्यागी व ओमपाल मास्टर आदि मौजूद रहे। बकाया भुगतान न होने पर हाईवे जाम करेगी भाकियू

जेएनएन, मुजफ्फरनगर। कृषि कानूनों की वापसी को लेकर भाकियू का रोहाना टोल प्लाजा पर धरना शनिवार को भी जारी रहा। चरथावल ब्लाक अध्यक्ष कुशलवीर सिंह ने कहा कि शीघ्र ही गन्ने का बकाया भुगतान ब्याज सहित न होने पर भाकियू रेल व हाईवे जाम करेगी।

मुजफ्फरनगर-सहारनपुर स्टेट हाईवे-59 पर स्थित रोहाना टोल प्लाजा पर 18वें दिन भी भाकियू का धरना जारी रहा। कुशलवीर सिंह ने कहा कि कृषि कानूनों की वापसी को लेकर सात माह से किसानों की लड़ाई जारी है। अगले छह माह तक धरना-प्रदर्शन जारी रहेगा। केंद्र व प्रदेश की भाजपा सरकार किसान विरोधी हैं। शुगर मिल गन्ने का भुगतान नहीं कर रही है, जिससे किसानों की आर्थिक स्थिति बेहद खराब है। उन्होंने प्रशासन को चेतावनी देते हुए कहा कि शीघ्र ही गन्ना का भुगतान ब्याज सहित नहीं हुआ तो भाकियू रेल व हाईवे पर चक्का जाम करेगी। तहसील उपाध्यक्ष नवीन त्यागी, संजय त्यागी, तहसीन, राजू , बोबी, दुष्यंत त्यागी, बबलू, सहेंद्र प्रधान, अनिल, गोगा, रोबिन चौधरी, सुधीर ठाकुर, ऋषिपाल व सुनील त्यागी आदि मौजूद रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.