डाकघरों में एईपीएस का विशेष कैम्प आज

डाकघरों में एईपीएस का विशेष कैम्प आज

अब खाताधारकों को बैंकों में भीड़ लगाने की जरूरत नहीं है। खाताधारकों को धनराशि का भुगतान डाकघरों में आधार इनेबिलड पेमेंट सिस्टम (एईपीएस) के माध्यम किया जा सकता है। इसके लिए डाकघरों में शुक्रवार को विशेष कैंप लगेगा।

JagranThu, 04 Mar 2021 11:57 PM (IST)

मुजफ्फरनगर, जागरण टीम। अब खाताधारकों को बैंकों में भीड़ लगाने की जरूरत नहीं है। खाताधारकों को धनराशि का भुगतान डाकघरों में आधार इनेबिलड पेमेंट सिस्टम (एईपीएस) के माध्यम किया जा सकता है। इसके लिए डाकघरों में शुक्रवार को विशेष कैंप लगेगा।

डाकघर के प्रवर अधीक्षक वीर सिंह ने बताया कि व्यक्ति, मजदूर, किसान, व्यापारी किसी भी बैंक में खाता है। वह खाते में डीबीटी के माध्यम से वृद्धावस्था पेंशन, किसान सहायता राशि, जनधन योजना के खातों मे सरकार द्वारा भेजी जाने वाली सहायता राशि का भुगतान लेना चाहता है तथा बैंक जाने में असमर्थ है तो यदि खाता आधार से लिक है तो वह नजदीकी उप डाकघर, शाखा डाकघर को फोन कर अथवा अपने घर, ग्राम के नजदीकी शाखा डाकपाल से अवकाश के दिन भी संपर्क करके एईपीएस, मोबाइल, ओटीपी और आधार नंबर की सहायता से घर बैठे धनराशि निकाल सकता है। इसके तहत न्यूनतम 100 रुपये और अधिकतम दस हजार रुपये तक की धनराशि निकाल सकते हैं। इसके लिए खाताधारक का डाकघर में खाता होना जरूरी नहीं है। इसके लिए सौ रुपये से इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक का खाता खुलवा सकते हैं। घर बैठे अपने सुकन्या, आरडी, पीपीएफ खाते में धनराशि जमा कर सकते हैं। इसके अलावा टीवी, मोबाइल रिचार्ज, टेलीफोन, गैस, पानी, बिजली के बिल व बीमा की प्रीमियम भुगतान कर सकते हैं। परिवार के सदस्य के बैंक खाते में पैसा भेज सकते हैं। एकमुक्त समाधान योजना में 15 मार्च तक पंजीकरण

मुजफ्फरनगर : अधीक्षण अभियंता विद्युत वितरण मंडल प्रथम ओपी मिश्रा ने बताया कि घरेलू बत्ती/पंखा एवं निजी नलकूप श्रेणी के समस्त विद्युत उपभोक्ताओं के लिए 100 प्रतिशत सरचार्ज माफी के लिए एकमुक्त समाधान योजना लागू की गई है। योजना के तहत जनवरी-2021 तक के विद्युत बिल पर शत प्रतिशत सरचार्ज माफी किया जाएगा। योजना का लाभ लेने के लिए 15 मार्च तक पंजीकरण एवं 31 मार्च तक बकाया जमा करना अनिवार्य है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.