नए घर में शिफ्ट होने से बेहद खुश था परिवार, दो दिन बाद बेटे के इस कदम से रह गया सन्न

बेटे ने नए घर के कमरे में फांसी लगाकर जान दी
Publish Date:Fri, 23 Oct 2020 02:58 PM (IST) Author: Abhishek Pandey

अमरोहा, जेएनएन। देहात थाना क्षेत्र के मुहल्ला पुष्कर नगर स्थित नए घर में शिफ्ट होने के बाद परिवार बेहद खुश था, लेकिन उनकी खुशियां दो दिन बाद ही तब फाख्ता हो गई, जब बेटे ने नए घर के कमरे में फांसी लगाकर जान दे दी। उसका शव कमरे में रस्सी के सहारे लटका मिला। आत्महत्या का कारण स्पष्ट नहीं हो सका है। मृतक का चयन पीएसी में हुआ था। उसकी मौत से स्वजनों की खुशियां मातम में तब्दील हो गई। शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

 यह घटना देहात थाना क्षेत्र के मुहल्ला पुष्कर नगर की है। मूल रूप से रजबपुर थाना क्षेत्र के गांव बलदाना निवासी किशोरी सिंह रेलवे में ड्राइवर हैं। परिवार में पत्नी राजेश्वरी देवी, दो बेटे सुरेश कुमार, धर्मपाल सिंह व एक बेटी कुसुम देवी हैं। बड़े बेटे व बेटी की शादी कर दी है। जबकि छोटा बेटा धर्मपाल सिंह घर पर ही रहता था। उसका चयन पिछले दिनों पीएसी में हुआ था। अभी वह ट्रेनिंग पर नहीं गया था। किशोरी सिंह ने मुहल्ला पुष्कर नगर में नया घर बनाया है। दो दिन पहले ही वह इस मकान में शिफ्ट हुए थे। गुरुवार रात सभी स्वजन खाना खा कर सो गए थे। रात में किसी समय बेटे धर्मपाल सिंह ने अपने कमरे में फांसी लगा कर जान दे दी। शुक्रवार सुबह लगभग छह बजे स्वजनों ने उसका शव फंदे पर लटका देखा। जवान बेटे की मौत से स्वजनों में हड़कंप मच गया। सूचना मिलने पर आसपास के लोग भी मौके पर आ गए। थोड़ी ही देर में देहात पुलिस भी आ गई तथा शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। युवक द्वारा आत्महत्या किए जाने का कारण स्पष्ट नहीं हो सका है। स्वजन भी इस बारे में जानकारी नहीं दे पा रहे हैं। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.