पत्नी के पान मसाला खाने के शौक ने पति को पहुंचाया जेल, जानिये कैसे, क्या हैै पूरा मामला

Wife Addiction Sent Husband Jail महिला के पान मसाला खाने के शौक ने उसके पति को जेल की हवा खिला दी। दरअसल बिलासपुर की एक महिला पान मसाला खाने का शाैैैक रखती है। इससे परेशान होकर उसके पति ने उसे कई बार टोका लेकिन कोई असर नहीं हुआ।

Samanvay PandeyMon, 20 Sep 2021 04:10 PM (IST)
पति ने पत्नी के शौक से परेशान होकर उसकी पिटाई कर दी।

मुरादाबाद, जेएनएन। Wife Addiction Sent Husband Jail : पान मसाला खाना सेहत के लिए हानिकारक है। यह जानते हुए भी लोग इसे खाते हैं।जबकि पान मसाले के पाउस और डिब्बे पर इसको लेकर चेतावनी भी लिखी होती है। यही नहीं इसको लेकर झगड़ेे भी होते हैं। मामले पुलिस थाने तक पहुंच जाते हैं। ऐसा ही एक मामला उत्तर प्रदेश के रामपुर जनपद में हुआ है। जहां महिला के पान मसाला खाने के शौक ने उसके पति को जेल की हवा खिला दी। दरअसल, बिलासपुर की एक महिला पान मसाला खाने का शाैैैक रखती है। दिन भर उसके मुंह में मसाला भरा रहता है। इससे परेशान होकर उसके पति ने उसे कई बार टोका लेकिन कोई असर नहीं हुआ।

शनिवार को पति ने पत्नी के शौक से परेशान होकर उसकी पिटाई कर दी। इससे गुस्साई पत्नी ने पुलिस बुला ली और पति पर बेवजह पिटाई करने का आरोप लगाते हुए उसे जेल भिजवा दिया।हालांकि बाद में दोनों में समझौता हो गया। मामला क्षेत्र में चर्चा का विषय बन गया। मामला जिले की बिलासपुर तहसील क्षेत्र का है। यहां के मुहल्ला लक्ष्मीनगर निवासी एक युवक ने शनिवार को पत्नी की पिटाई कर दी, जिससे क्षुब्ध होकर महिला ने डायल 112 को सूचना दे दी। सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने महिला की शिकायत पर उसके पति को हिरासत में लेकर कोतवाली ले आई। महिला ने पुलिस को बताया कि उसका पति आए-दिन उसके साथ मारपीट करता है। वहीं युवक ने बताया कि उसकी पत्नी को गुटका खाने की आदत है, जिससे वह परेशान है। इसी बात को लेकर घर में आए दिन विवाद होता रहता है। उधर, कार्यवाहक प्रभारी निरीक्षक लखपत सिंह ने बताया कि पति-पत्नी के बीच विवाद हो गया था। महिला की शिकायत पर उसके पति को थाने में बैठा दिया था। बाद में दंपती के बीच समझौता हो गया और वे अपने घर चले गए।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.