Vaccination of Animals : टैगिंग की वजह से नहीं लगा पशुओं काे टीका, अब बढ़ती जा रहीं बीमार‍ियां

Vaccination of Animals टीका नहीं लगने की वजह से सर्दियों की दस्तक से पशुओं में बीमार‍ियां बढ़ती जा रहीं हैं। महेशरा में 10 पशुओं की मौत होने के बाद भी 21 पशुओं की हालत अभी भी नाजुक बनी हुई है।

Narendra KumarSun, 28 Nov 2021 12:46 PM (IST)
महेशरा में 21 पशुओं की हालत अभी भी नाजुक, विभाग ने शुरू कराया टीकाकरण।

मुरादाबाद, संवाद सहयोगी। Vaccination of Animals : अमरोहा के गजरौला में खुरपका व मुंहपका का टीका नहीं लगने की वजह से सर्दियों की दस्तक से पशुओं में बीमार‍ियां बढ़ती जा रहीं हैं। महेशरा में 10 पशुओं की मौत होने के बाद भी 21 पशुओं की हालत अभी भी नाजुक बनी हुई है। जिनका इलाज शुरू करते हुए पशुओं को विभाग द्वारा टीका लगवाने का कार्य शुरू कर दिया।

बता दें कि हर साल पशु पालन विभाग द्वारा साधारण तरीके से पशुओं को मुंहपका व खुरपका की बीमारी से बचने के लिए टीका लगाया जाता था। लेकिन, पिछले साल यानी वर्ष 2020 में अक्टूबर माह से शासन ने टीकाकरण में बदलाव करते हुए पहले पशुओं के कानों में टैगिंग और उसके बाद टीका लगवाने की नियम बनाया था। जिसका विरोध हुआ और अधिकांश पालकों ने टीका नहीं लगवाया। तब से अभी तक पशुओं को खुरपका व मुंहपका का टीका नहीं लग पाया। अब सर्दिया आते ही पशुओं में बीमारी फैलने लगी। इसकी शुरुआत ब्लाक के गांव महेशरा से हुई। यहां पर अब तक दस पशुओं की मौत हो गई। जबकि 21 पशु की हालत अभी तक नाजुक बनी हुई है। जिनका इलाज पशु पालन विभाग ने शुरू कर दिया। पशु पालक विभाग की आठ सदस्य टीम ने गांव महेशरा में पहुंचकर सर्वे करते हुए 450 पशुओं को टीका भी लगाया था। साढ़े तीन सौ पशुओं को टीका लगाया गया। ककराला पशु चिकित्सालय के चिकित्सक डा. मुस्ताक अहमद ने बताया कि गांव महेशरा में पशुओं को टीका लगवाया जा रहा है। अब किसी पशु की मौत नहीं हुई है। 21 पशुओं की हालत खराब होने पर उनका इलाज शुरू किया।

 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.