ट्रैक्‍टर चलाकर क‍िसान चौपाल में पहुंचे केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी, कहा-क‍िसानों को गुमराह कर रही कांग्रेस

ट्रैक्‍टर चलाकर क‍िसान चौपाल में पहुंचे केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी।

कहा क‍ि कांग्रेस एंड कंपनी का कहना है कि अनुबंधित कृषि समझौते में किसानों का पक्ष कमजोर होगा और वे कीमतों का निर्धारण नहीं कर पाएंगे जबकि सच यह है कि किसान को अनुबंध में पूर्ण स्वतंत्रता रहेगी कि वह अपनी इच्छा के अनुरूप दाम तय कर उपज बेच सकेंगे।

Narendra KumarSun, 04 Oct 2020 04:10 PM (IST)

रामपुर, जेएनएन। ज‍िले के म‍िलक में कृषि विधेयक ब‍िल को लेकर किसानों में फैली भ्रांतियों को दूर करने के उद्देश्य से भाजपाइयों ने किसान चौपाल की। धनेली उत्तरी गांव में भाजपा के पूर्व विधायक ज्वाला प्रसाद गंगवार के बाग में किसान चौपाल हुई। दोपहर एक बजे अल्पसंख्यक आयोग केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी खुद ट्रैक्‍टर चलाकर पहुंचे। चौपाल को भाजपा वक्ताओं ने संबोधित किया। चौपाल में 42 मिनट तक किसानों से संवाद किया और उन्हें कृषि बिला की जानकारी दी गई । दोपहर पौने दो बजे मंंत्री रामपुर के लिए रवाना हो गए। 

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि, कांग्रेस एंड कंपनी, झूठ के झाड़ से सच का पहाड़ छुपाने की कोशिश कर रही है जो कभी कामयाब नहीं हो सकता। बिचौलियों के चक्रव्यूह को चकनाचूर करने और किसानों की मेहनत की भरपूर कीमत देने की गारंटी है कृषि सुधार बिल। कांग्रेस और उसके साथी दल किसान बिल पर भय और भ्रम का भूत खड़ा करना चाहते हैं। जब मोदी सरकार किसानों को सशक्त करने के लिए कदम उठा रही है तो कांग्रेस किसानों को ही गुमराह करने की साजिश रच रही है। कृषक उपज व्यापार और वाणिज्य (संवर्धन और सरलीकरण) विधेयक, कृषक (सशक्तिकरण व संरक्षण) कीमत आश्वासन और कृषि सेवा पर करार विधेयक और आवश्यक वस्तु (संशोधन) विधेयक के पारित हो जाने से अब किसानों को अपने फसल के भंडारण और बिक्री की आजादी मिलेगी और बिचौलियों के चंगुल से उन्हें मुक्ति मिलेगी। किसान खरीदार से सीधे जुड़ सकेंगे, जिससे किसानों को उनके उत्पाद की भरपूर कीमत मिल सकेगी।

कहा क‍ि किसानों की पहुंंच अत्याधुनिक कृषि प्रौद्योगिकी, कृषि उपकरण एवं उन्नत खाद-बीज तक होगी। किसानों को तीन दिन में भुगतान की गारंटी मिलेगी। किसान अपनी फसल का सौदा सिर्फ अपने ही नहीं बल्कि दूसरे राज्य के लाइसेंसी व्यापारियों के साथ भी कर सकते हैं, इससे बाजार में प्रतिस्पर्धा होगी और किसानों को अपनी मेहनत के अच्छे दाम मिलेंगे। देश भर में किसानों को उपज बेचने के लिए वन नेशन वन मार्किट की अवधारणा को बढ़ावा मिलेगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के गांव, गरीब, किसान के हितों को समर्पित हैं, और मोदी की सरकार में किसानों के किसी भी हक को कमजोर नहीं होने दिया जाएगा। मोदी सरकार में केवल प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के तहत ही अब तक किसानों को 92,000 करोड़ रुपये से अधिक की राशि दी जा चुकी है।

केंद्रीय मंत्री ने कहा क‍ि कांग्रेस और दूसरे विरोधी दल देश के किसानों को गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं और भ्रम फैला रहे हैं कि कृषि सुधार विधेयकों के जरिए न्यूनतम समर्थन मूल्य अर्थात एमएसपी की व्यवस्था खत्म करने की तैयारी है, जबकि प्रधानमंत्री बार-बार कह चुके हैं कि, देशभर में एमएसपी की व्यवस्था पहले की तरह जारी रहेगी और इसमें कोई बदलाव नहीं किया जाएगा। इतना ही नहीं, कई फसलों की एमएसपी भी बढ़ा दी गई है।  22 करोड़ से ज्यादा किसानों को सॉइल हेल्थ कार्ड दिए गए है, पीएम फसल बीमा का लाभ आठ करोड़ किसानों को दिया गया है। कार्यक्रम में राज्य मंत्री बलदेव सिंह औलख, जिला पंचायत अध्यक्ष चंद्रपाल सिंह, भाजपा जिलाध्यक्ष अभय गुप्ता, भाजपा विधायक राजबाला लोधी, पूर्व भाजपा विधायक ज्वाला प्रसाद गंगवार, सूर्य प्रकाश पाल, जयपाल व्यस्त, ब्लॉक प्रमुख अर्चना गंगवार, दीक्षा गंगवार, नरेन्द्र गंगवार, अशोक विश्नोई, भारत भूषण गुप्ता, जागेश्वर दयाल दीक्षित, ऋषी पांडेय आदि भाजपाई मैजूद रहे। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.