विदेश भेजने के नाम पर ढाई लाख रुपये ठगी, रुपये वापस मांगने पर दी धमकी, जांच में जुटी पुलिस

विदेश भेजकर नौकरी लगवाने के लिए नाम पर एक व्यक्ति ने ढाई लाख रुपये की ठगी की। पीड़ित ने एसएसपी को शिकायत पत्र देकर कार्रवाई की मांग की है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। मूंढापांडे थाना पुलिस को जांच कर कार्रवाई के आदेश दिए गए हैं।

Narendra KumarThu, 29 Jul 2021 09:20 AM (IST)
पीड़ित ने एसएसपी को शिकायत पत्र देकर कार्रवाई की मांग की है।

मुरादाबाद, जागरण संवाददाता। विदेश भेजकर नौकरी लगवाने के लिए नाम पर एक व्यक्ति ने ढाई लाख रुपये की ठगी की। पीड़ित ने एसएसपी को शिकायत पत्र देकर कार्रवाई की मांग की है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। 

ठगी का शिकार हुए मुहम्मद ताहिर निवासी मूंढापांडे थाना क्षेत्र के बरबाला खास गांव के निवासी है। गांव में वह बाल काटने का काम करते हैं। पीड़ित ने बताया कि उसकी भाभी का भांजा अमरोहा में रहता है, जो विदेश में बाल काटने का काम करता है। क्षेत्र के कई युवाओं की वह विदेश में नौकरी लगवा चुका है। करीब तीन माह पूर्व वह एक शादी समारोह में भांजे से मुलाकात की थी। इस दौरान उसने सउदी अरब में नौकरी लगवाने का झांसा देकर ढाई लाख रुपये लिए थे। उसने दावा किया था, कि विदेश में पैंतीस हजार रुपये प्रति माह सेलरी मिलेगी। लेकिन निर्धारित समय के बाद नौकरी नहीं लगी तो उसने पैसे वापस मांगे। लेकिन उसने पैसे देने से इन्कार करने के साथ ही धमकी देने लगा। एसएसपी पवन कुमार ने पीड़ित की शिकायत सुनने के बाद मूंढापांडे थाना पुलिस को जांच कर कार्रवाई के आदेश दिए हैं।

रास्‍ते का जताया व‍िरोध : रामपुर के ब‍िलासपुर में गांव नगरिया कलां के ग्रामीणों ने तहसील में प्रदर्शन कर श्मशानघाट में निकाले जा रहे रास्ते का विरोध जताया। इस दौरान तहसीलदार को शिकायती पत्र सौंपकर श्मशानघाट की भूमि से जबरन निकाले जा रहे रास्ते को बंद कराने की मांग की। ग्रामीण प्रधानपति चौधरी लोकेंद्र सिंह के नेतृत्व में तहसील पहुंचे। जहां पर नारेबाजी कर प्रदर्शन किया। इसके बाद ग्रामीणों ने शिकायती पत्र तहसीलदार रणविजय सिंह सौंपकर समस्या का समाधान कराने की मांग की। ग्रामीणों ने कहा कि गांव में एक श्मशानघाट है। जिसमें गांव के लोगों का अंतिम संस्कार किया जाता है। आरोप लगाया कि गांव के कुछ दबंग लोगों ने श्मशानघाट के बीचों-बीच रास्ता बना लिया। जब इस बात का विरोध करते हैं, तो वह लोग झगड़ा करने पर आमादा हो जाते हैं। उन्होंने इससे पहले भी मामले की शिकायत की थी। लेकिन, आज तक समस्या का समाधान नहीं हो पाया। जिसकी वजह से समुदाय के लोगों में रोष है। तहसीलदार ने श्मशानघाट से रास्ता बंद कराने का आश्वासन दिया। इस मौके पर रघुनंदन भारद्वाज, वीरपाल सिंह, विजय कुमार, हरपाल सिंह, विनोद कुमार, सुबोधपाल आदि मौजूद रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.