मजदूर के पर‍िवार को दी धमकी, कहा-हमारे तीन लोगों को जेल से रिहा कराओ, वरना जान से हाथ धो बैठोगे

फरीदाबाद जेल में बंद अपहरण के तीन आरोपितों को जेल से रिहा न कराने पर अमरोहा के एक मजदूर के परिवार को जान से मारने की धमकी मिली है। पीड़ित की शिकायत पर डीआइजी शलथ माथुर ने मुरादाबाद के 10 लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है।

Narendra KumarSun, 01 Aug 2021 06:13 AM (IST)
डीआइजी के आदेश पर मुरादाबाद के 10 लोगों पर रिपोर्ट।

मुरादादाबाद, जागरण संवाददाता। फरीदाबाद जेल में बंद अपहरण के तीन आरोपितों को जेल से रिहा न कराने पर अमरोहा के एक मजदूर के परिवार को जान से मारने की धमकी मिली है। पीड़ित की शिकायत पर डीआइजी शलथ माथुर ने मुरादाबाद के 10 लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है।

रजबपुर थाना क्षेत्र के गांव मंगूपुरा गांव में मजदूर राजवीर सिंह का परिवार रहता है। बीती 29 मई को उनके भतीजे प्रमोद का कुछ लोगों ने फरीदाबाद में अपहरण कर लिया था। फोन कर उनसे 50 हजार रुपये की फिरौती मांगी गई थी। रुपये नहीं देने पर भतीजे को जान से मारने की धमकी दी थी। इस संबंध में थाना सराय ख्वाजा जिला फरीदाबाद हरियाणा में रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। इस प्रकरण में पुलिस ने सराय ख्वाजा निवासी तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर जेल भेजा था। फिलहाल तीनों आरोपित फरीदाबाद जेल में बंद हैं। अब राजवीर सिंह को फोन पर फिर से धमकी मिल रही हैं। उन्होंने डीआइजी शलभ माथुर को शिकायती पत्र देकर आरोप लगाया था कि मुरादाबाद के कुछ लोग उन्हें फोन पर धमकी दे रहे हैं। मुकदमा वापस लेकर जेल में बंद तीनों आरोपितों की रिहाई कराने का दबाव बना रहे हैं। अन्यथा परिवार को जान से मारने की धमकी दी जा रही है। डीआइजी ने प्रकरण को गंभीरता से लिया और रजबपुर थाना पुलिस को आरोपितों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर तत्काल गिरफ्तारी के आदेश दिए। लिहाजा मुरादाबाद के डबल फाटक निवासी सतीश, इंद्रपाल, सूरज, विजेंद्र, जगदीश, मनोज, राजेंद्र, मितखा और इंद्रपाल की पत्नी शशीया व मितखा की पत्नी अकिला के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। प्रभारी निरीक्षक संजीव त्यागी ने बताया कि मामले की जांच शुरू कर दी गई है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.