जानलेवा हमले के आरोपित टीटीई की जमानत याचिका खारिज, रुपये वापस मांगने पर मार दी थी गोली

सिविल लाइंस थाना पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर अभियुक्त को गिरफ्तार कर लिया था। अभियोजन अधिकारी ने जमानत का जमकर विरोध किया। कोर्ट में सीजेएम विमल वर्मा ने पत्रावली के अवलोकन उपरांत अभियुक्त विजय सिंह की जमानत अर्जी खारिज किए जाने के आदेश दिए हैं।

Narendra KumarSun, 05 Dec 2021 01:56 PM (IST)
नौकरी के लिए रुपये वापस मांगने पर मार दी थी गोली।

मुरादाबाद, जागरण संवाददाता। अपने रुपये वापस मांगने वाले युवक को गोली मारने के आरोपित टीटीई विजय सिंह की जमानत अर्जी पर सुनवाई हुई। सीजेएम विमल वर्मा ने आरोपित की जमानत खारिज कर दी।

सिविल लाइंस थानाक्षेत्र की रामाश्रम कालोनी निवासी विजय सिंह रेलवे विभाग में टीटीई के पद पर तैनात हैं। आरोप है कि विजय सिंह ने सम्भल के शहजादी सराय निवासी सतेंद्र और कौशल निवासी मुहल्ला आलम सराय से पेट्रोलियम मंत्रालय दिल्ली में नौकरी लगवाने के नाम से धोखाधड़ी करके पांच-पांच लाख रुपये लिए थे। नौकरी नहीं मिलने पर विजय सिंह से रुपये वापस करने के लिए दबाव बनाया तो 26 नवंबर को एसबीआइ मुरादाबाद का दस लाख रुपये का चेक दे दिया। चेक बाउंस होने के बाद जब युवकों ने अपनी रकम मांगी तो विजय ने तीस नवंबर को उन्हें पैसे देने के लिए अपने घर राम आश्रम कालोनी बुला लिया। रात करीब साढ़े सात बजे सतेंद्र अपने दोस्त नदीम निवासी सराय सम्भल के साथ कौशल और शीशपाल जौरामल निवासी शहजादी सराय सम्भल के साथ टीटीई विजय सिंह के घर गए। वहां कहासुनी होने पर विजय सिंह और उसकी पत्नी अलका सिंह ने पहले गाली-गलौज की। इसके बाद विजय सिंह ने लाइसेंसी रिवाल्वर तीन फायर किए। इसमें एक गोली नदीम की दाहिनी जांघ में जा लगी। सिविल लाइंस थाना पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर अभियुक्त विजय को गिरफ्तार कर लिया। अभियुक्त के अधिवक्ता ने सीजेएम कोर्ट में अभियुक्त विजय की जमानत अर्जी पेश कर कहा कि अभियुक्त को रंजिशन फंसाया गया है, उसने कोई अपराध नहीं किया है और ना ही किसी के साथ कोई धोखाधड़ी की है। अभियोजन अधिकारी ने जमानत का जमकर विरोध किया। कोर्ट में सीजेएम विमल वर्मा ने पत्रावली के अवलोकन उपरांत अभियुक्त विजय सिंह की जमानत अर्जी खारिज किये जाने के आदेश दिए हैं।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.