Ten Signs Festival of Jain Society : बिना प्रयोजन के पृथ्वी, पहाड़ से नहीं करनी चाहिए छेड़छाड़

Ten Signs Festival of Jain Society बुधवार को दसलक्षण पर्व के छटे दिवस उत्तम संयम के अवसर पर श्री पार्श्वनाथ दिगम्बर बड़ा जैन मंदिर में विराजमान शिखर से पधारे ऋषभ जैन शास्त्री ने कहा कि बिना किसी प्रयोजन के न पृथ्वी न पहाड़ खोदना चाहिए।

Samanvay PandeyThu, 16 Sep 2021 12:12 PM (IST)
महाव्रती मुनि अपनी समस्त इन्द्रियों पर पूर्ण संयम व नियंत्रण रखते हैं, मन को उग्र नहीं होने देते।

मुरादाबाद, जेएनएन। Ten Signs Festival of Jain Society : बुधवार को दसलक्षण पर्व के छटे दिवस उत्तम संयम के अवसर पर श्री पार्श्वनाथ दिगम्बर बड़ा जैन मंदिर में विराजमान शिखर से पधारे ऋषभ जैन शास्त्री ने कहा कि बिना किसी प्रयोजन के न पृथ्वी, न पहाड़ खोदना चाहिए, न पानी बिखेरना चाहिए न आग जलानी चाहिए न हवा करनी चाहिए और न फूल, पत्ते, घास, डाली आदि तोड़नी चाहिए। महाव्रती मुनि अपनी समस्त इन्द्रियों पर पूर्ण संयम व नियंत्रण रखते हैं, मन को उग्र नहीं होने देते।

छठे दिन की शांतिधारा के पुण्यार्जक संजय जैन,ममता जैन निशांक जैन,निकिता जैन, रीजा जैन, निखिल जैन मानपुर रहे। दिगंबर जैन समाज के अध्यक्ष अनिल जैन ने एवं मंत्री पंकज जैन सिटी मजिस्ट्रेट महेंद्र पाल सिंह ने भी हिस्सा लिया। शाम को आरती संचालन सुभाष जैन ने किया। मंगलाचरण तरुणा जैन श्रेया ने किया। संरक्षिका रानी जैन द्वारा संस्कारी बहु नाटक का आयोजन किया गया जिसमें नीलम जैन, एकता जैन, खुशी जैन, ऋतु जैन, शिखा जैन, कनिका छवि ने हिस्सा लिया। इधर, रामगंगा विहार में दिगंबर जैन समाज के पर्वाधिराज पर्यूषण दस लक्षण पर्व प्रवचन में कहा गया कि नापसंद ग़ुस्से का त्याग करना, इन सब से छुटकारा तब ही मुमकिन है जब अपनी आत्मा को इन सब प्रलोभनों से मुक्त करें और स्थिर मन के साथ संयम रखें।

प्रथम अभिषेक एवं शांतिधारा,उत्तम संयम धर्म के शुभ बेला में श्रीजी का प्रथम अभिषेक व शांति धारा करने का सौभाग्य,नीरज जैन, राहुल जैन, शौर्य जैन व सुरेंद्र कुमार जैन, मुदित जैन, पारस जैन को प्राप्त हुआ। दस लक्षण विधान विधान का राकेश जैन, नीता जैन ,अंशुल जैन मेघा जैन,अंकुर जैन पूजा जैन, सुरेन्द्र कुमार जैन रुकमणी जैन, मुदित जैन छवि जैन, परिधि जैन, पारस जैन समता जैन, सजल जैन, पूजा जैन, सिद्ध जैन, सम्यक जैन मौजूद रहे।

रिद्धि-सिद्धि भवन में स्वर्ण कलश से श्रीजी का अभिषेकः टीएमयू के रिद्धि-सिद्धि भवन में उत्तम तप के दिन प्रथम स्वर्ण कलश से अभिषेक का सौभाग्य डा. रत्नेश जैन, द्वितीय स्वर्ण कलश का डा. विपिन जैन, तृतीय स्वर्ण कलश का डा. रजनीश जैन, चतुर्थ स्वर्ण कलश का सौभाग्य रजत जैन को मिला। प्रथम स्वर्ण कलश से शांतिधारा करने का सौभाग्य सीसीएसआइटी के छात्रों अनिकेत जैन, पारस जैन, संस्कार जैन, सागर जैन, सनिष्क जैन और द्वितीय रजत कलश से शांतिधारा करने का सौभाग्य संयम जैन, अंबुज जैन, संस्कार जैन, अर्पित जैन, श्रुतिक जैन, गर्वित जैन को प्राप्त हुआ।

इस मौके पर कुलाधिपति सुरेश जैन, फर्स्ट लेडी बीना जैन, ग्रुप वाइस चेयरमैन मनीष जैन, रिचा जैन की मौजूदगी रही। दूसरी ओर टीएमयू सभागार में आयोजित कल्चरल इवनिंग में टिमिट के छात्र–छात्राओं ने देशभक्ति से ओतप्रोत कार्यक्रमों से सभी का दिल जीत लिया। सांस्कृतिक सांझ का यूनिवर्सिटी के कुलपति प्रो. रघुवीर सिंह ने बतौर मुख्य अतिथि दीप प्रज्ज्वलित करके शुभारंभ किया। इस मौके पर विशिष्ट अतिथि के तौर पर सीए अभिनव अग्रवाल, ऋचा अग्रवाल, रजिस्ट्रार डा. आदित्य शर्मा उपस्थित रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.