top menutop menutop menu

मुरादाबाद में बच्चों के विवाद में दो पक्षों में पथराव और फायरिंग, आठ लोग घायल

मुरादाबाद में बच्चों के विवाद में दो पक्षों में पथराव और फायरिंग, आठ लोग घायल
Publish Date:Mon, 03 Aug 2020 08:28 PM (IST) Author: Narendra Kumar

मुरादाबाद, जेएनएन। थाना भगतपुर क्षेत्र के एक गांव में बच्चों के खेलने के विवाद में दो पक्षों में संघर्ष हो गया। इस दौरान पथराव और फायरिंग होने से पूरे गांव में दहशत फैल गई। दोनों पक्षों के आठ लोग जख्मी गए हैं। पुलिस ने दोनों पक्षों की तहरीर पर ग्यारह लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करके जांच शुरू कर दी है।

थाना क्षेत्र के ग्राम उदमावाला निवासी रहमत अली और मोइनउद्दीन आसपास में रहते हैं। रहमत का 10 वर्षीय बेटा अनस घर के बाहर खेल रहा था। आरोप है कि पड़ोसी मोइनउद्दीन का बेटे जलाल ने उनके पुत्र अनस के साथ मारपीट कर दी। वह इसकी शिकायत करने गए मोइनुद्दीन के घर गए तो वह अपने बेटे को समझाने के गाली-गलौज करने लगे। इसी बात को लेकर दोनों पक्षों के लोग आमने सामने आ गए। लाठी-डंडे निकल आए और दोनों पक्षों के लोगों ने अपनी-अपनी छतों से पथराव शुरू कर दिया। आरोप है कि मोइनउद्दीन और सरफराजउद्दीन ने विवाद के दौरान अपनी छतों पर खड़े होकर कई राउंड फायरिंग की। इससे गांव में दहशत फैल गई। मोइनउद्दीन का आरोप है कि रहमत अली के पक्ष के लोगों ने भी जमकर पथराव किया। असलाह उनके हाथों में भी थे। एक पक्ष से रहमत अली, इलियास और तसद्दुक घायल हो गए जबकि दूसरी तरफ से मोइनुउद्दीन, रेहान, जुल्फिकार, रिजवान और फखरुद्दीन घायल हुए हैं। घटना की सूचना पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर स्थिति को संभाला। घायलों का मेडिकल कराया कराकर दोनों तरफ के ग्यारह लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। थानाध्यक्ष कोमल सिंह ने बताया कि बच्चों में मारपीट को लेकर विवाद हुआ है। मोइनउद्दीन की तहरीर पर शकील, अकरम, रहमत अली, इमाम अली, उस्मान अली, इनाम अली के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ है जबकि रहमत अली की तहरीर पर मुइनुद्दीन, रिजवान, अफजाल, मुस्तुफा, सरफराजउद्दीन के खिलाफ मुकदमा लिखकर कार्रवाई की जा रही है।

वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल

ग्राम उदमावाला में पथराव और फायरिंग की वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। वीडियो में ग्रामीण विवाद के दौरान एक-दूसरे से बंदूक छीनते नजर आ रहे हैं। फायरिंग की भी वीडियो से पुष्टि हो रही है। हालांकि पुलिस शुरू से ही फायरिंग की बात से इन्कार कर रही थी। वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने फायरिंग की बात को स्वीकार किया।

निरस्त होंगे शस्त्र लाइसेंस

एसपी एसपी ग्रामीण विद्यासागर मिश्र ने बताया कि लाइसेंसी असलाहों से फायरिंग होने के आरोपों की जांच की जा रही है। जांच के दौरान यह बात सामने आने पर आरोपितों के शस्त्र लाइसेंस निरस्त कराने के लिए कार्रवाई कराई जाएगी। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.