बिजली विभाग के खिलाफ सपा विधायक ने खोला मोर्चा, कहा-विधानसभा में उठाएंगे मुद्दा

पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेकर आरोपियो को गिरफ्तार कर लिया था।

महिलाओं ने दरवाजा नहींं खोला तो बिजली कर्मचारी सीढ़ी लगाकर छत के रास्ते घर में घुस गए। इस पर महिलाओंं ने शोर मचा दिया। शोर सुनकर आसपास के लोग भी पहुंच गए। महिला पुलिस के बिना घर में घुसकर अभद्रता करने से गुस्साई भीड़ ने कर्मचारियो को दौड़ा लिया था।

Publish Date:Mon, 25 Jan 2021 05:01 PM (IST) Author: Samanvay Pandey

मुरादाबाद, जेएनएन। नगर के मुहल्ला अंसारियान में मीनार मस्जिद के पास मुहम्मद हुसैन के घर पर बिजली विभाग की टीम ने शुक्रवार को छापा मारा था। उस समय घर पर सिर्फ महिलाएं ही थीं। इस पर उन्होंने बिजली कर्मियों से कहा कि घर पर कोई नहींं है। आप बाद में आना। इतना कहने के साथ महिलाओं ने दरवाजा नहींं खोला। इस पर कर्मचारी सीढ़ी लगाकर छत के रास्ते घर में घुस गए। यह देख घर में मौजूद महिलाओंं ने शोर मचा दिया। शोर सुनकर मौके पर आसपास के लोग भी पहुंच गए। महिला पुलिस के बिना घर में घुसकर अभद्रता करने से गुस्साई भीड़ ने बिजली कर्मचारियो को दौड़ा लिया था। पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेकर आरोपियो को गिरफ्तार कर लिया था। शनिवार को पुलिस ने एक युवती सहित चार आरोपियोंं का चालान कर दिया था।

रविवार को सपा विधायक नवाब जान खां ने घटना स्थल का जायजा लिया। कहा कि बिजली विभाग का चेकिंग के नाम पर लोगों का उत्पीड़न किसी भी हाल में बर्दाश्त नहींं किया जाएगा। उन्होंने बिजली विभाग के अधिकारियोंं कर्मचारियो की मनमानी का मुद्दा विधानसभा में उठाने की बात भी कही। विधायक के सामने लोगों ने कोतवाली पुलिस पर भी आरोप लगाए कि पुलिस ने तीन घरों के दरवाजे तोड़ दिए और गिरफ्तारी के दौरान पुरुषों को पीटा गया। महिलाओं के साथ अभद्रता की गई। उन्होंने इस तरह की मनमानी पर रोक लगवाकर कानूनी प्रक्रिया के तहत बिजली चेकिंग की मांग की। सपा विधायक ने कहा कि चीफ इंजीनियर तथा वरिष्ठ पुलिस अधिकारी से भी बात की है कि चेकिंग के दौरान ऐसे किसी के घर मेंं नही घुस सकते हैं। विधायक ने पीडि़तों को आश्वासन दिलाया कि न्याय की लड़ाई में वह हमेशा उनके साथ हैं। उधर अधिवक्ता और समाज सेवी नदीम सिद्दीकी ने इस मामले की न्यायालय में निश्शुल्क पैरवी करने का आश्वासन दिया। बिजली विभाग और पुलिस की कार्यप्रणाली की भी जमकर निंदा की। इस दौरान अनवर सिद्दीकी, शकील अहमद, शेरा खान,मोहम्मद फुरकान,आरिफ खान, शाकिर अंसारी,रियासत, कय्यूम अली, हैदर, शाकिर अली, आदि अनेक लोग मौजूद रहे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.