Smart City News :तीन साल में स्मार्ट नहीं हो पाए मुरादाबाद शहर के लोग,जानिए क्या रही वजह

Smart City News स्मार्ट सिटी में शहर का चयन हुए तीन साल बीत गए लेकिन लोगों ने अपनी आदतों को स्मार्ट नहीं बनाया है। नाले व नालियों में कचरा डालने की आदत नहीं छोड़ रहे हैं। जलभराव होने पर नगर निगम प्रशासन को जिम्मेदार ठहराना ठीक नहीं है।

Ravi MishraThu, 17 Jun 2021 04:15 PM (IST)
Smart City News :तीन साल में स्मार्ट नहीं हो पाए मुरादाबाद शहर के लोग,जानिए क्या रही वजह

मुरादाबाद, जेएनएन। Smart City News : स्मार्ट सिटी में शहर का चयन हुए तीन साल बीत गए लेकिन, लोगों ने अपनी आदतों को स्मार्ट नहीं बनाया है। नाले व नालियों में कचरा डालने की आदत नहीं छोड़ रहे हैं। जलभराव होने पर नगर निगम प्रशासन को जिम्मेदार ठहराना उनकी लापरवाही के लिए ठीक है। लेकिन, लोगों को भी जागरूक होना पड़ेगा। लोग अपने घर के आसपास की नाली में कूड़ा नहीं फेंकेंगे। लेकिन, कुछ दूरी पर जाकर नाले व नालियों में कूड़ा डालकर दूसरों की समस्या बढ़ाते हैं। नगर निगम ने शहर के नालों में बहते कचरे रोकने के लिए रामगंगा नदी में गिरने से पहले कुछ नालों में जाल लगवाए हैं।

इससे कूड़ा कचरा नाले ही ठहर जाता है। शहर में सवा सौ नालों में जालियां नहीं हैं। जिससे जहां-तहां कचरा फेकने से नाले चोक हो रहे हैं। दीनदयाल नगर में साईं मंदिर के पास नालियों में कचरा भरा पड़ा है। बारिश में यही नालिया उफान मारेंगी। छोटी नालियों में कचरा फंसने से जल्दी जलभराव होता है। लाइनपार के शंकर नगर के पास नाला भी चोक है। यह नाला साफ न होने से पानी निकासी ठीक से नहीं हो रही है। इसमें भी लोगों ने फटे पुराने कपड़े फेंकने के साथ ही डिस्पोजल भी फेंक रखे हैं।

ईदगाह क्षेत्र में स्लैब तोड़कर नाला सफाई जारी

नगर निगम का नाला सफाई अभियान जारी है। बुधवार को ईदगाह मैदान की ओर नाले से स्लैब तोड़कर सफाई की गई। प्रवर्तन दल की टीम मौजूद होने के कारण लोगों ने विरोध नहीं किया। जेसीबी से नाले की सफाई कराई जा रही है। भूमिगत नाले भी तेजी से साफ कराए जा रहे हैं। अपर नगर आयुक्त अनिल कुमार सिंह ने बताया कि नालों की स्लैब तोड़कर नालों की सफाई का कार्य जारी है। निरीक्षण करके नालों की सफाई का कार्य देखा जा रहा है।सफाई निरीक्षकों से भी रिपोर्ट ली जा रही है।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.