Sawan 2021 : मंद‍िरों में भगवान श‍िव के जलाभ‍िषेक के ल‍िए उमड़े भक्‍त, बम-बम बोले के गूंजे जयकारे

मुरादाबाद मंडल के श‍िव मंद‍िरों में सावन के पहले सोमवार पर भक्‍तों की भीड़ लगी रही। लाइन लगाकर भक्‍तों ने जलाभ‍िषेक क‍िया। इस दौरान भगवान श‍िव के जयकारों से माहौल भक्तिमय बना रहा। भीड़ रोकने के ल‍िए व‍िशेष इंतजाम क‍िए गए हैं।

Narendra KumarMon, 26 Jul 2021 07:53 AM (IST)
सावन माह के शुरूआत के साथ ही मंदिरों को भी सजा दिया गया है।

मुरादाबाद, जागरण संवाददाता। सावन के पहले सोमवार पर मुरादाबाद समेत मंडल के रामपुर, अमरोहा और सम्‍भल के श‍िव मंद‍िरों में सुबह से ही जलाभ‍िषेक के ल‍िए श‍िवभक्‍तों की लाइन लगी रही।  मुरादाबाद में चौरासी घंटा, झाड़खंडी मंदिर, खुशहालपुर स्थित ऋण मुक्तेश्वर मंदिर आदि में भक्‍तों की लाइन लगी रही। मंदिर में भीड़ न लगे, इसके ल‍िए पहले से ही व्‍यवस्‍थाएं की गईं थीं।

श्रावण माह की शुरुआत हो चुकी है। मंदिरों को भी सजा दिया गया है। सम्भल के अलावा बहजोई, चन्दौसी, असमोली व गुन्नौर के शिव मंदिरों में पहले सोमवार पर उल्लास है। कोरोना काल के चलते कांवड़ यात्रा पर रोक लगने से मंदिरों में शारीरिक दूरी का पालन कर जलाभिषेक किया जा रहा है।  सनातन धर्म में सावन का विशेष महत्व बताया गया है। यह पावन महीना भगवान शिव को समर्पित है। इस माह में शिवभक्त श्रद्धालु जल, दूध और गंगाजल आदि से महादेव का जलाभिषेक करते हैं। कोरोना संक्रमण के चलते शिवभक्तों को इस बार भी कोरोना गाइड लाइन का पालन कर जलाभिषेक करना पड़ रहा है।

सम्‍भल में इन मंद‍िरों में होता है जलाभि‍षेक : नगर के बहजोई रोड स्थित पातालेश्वर महादेव मंदिर सरायतरीन, नगर में शंकर कालेज के निकट स्थित सूर्य कुंड मंदिर, ग्रामीण क्षेत्र में हसनपुर रोड स्थित गांव फतेहपुर भाऊ स्थित प्रकटेश्वर शिव मंदिर समेत अन्य स्थानों पर स्थित शिवालयों में जलाभिषेक हो रहा है।

इस साल सावन माह का शुभारंभ आयुष्मान सौभाग्य योग में है। पवित्र माह में चार सोमवार और दो प्रदोष पड़ेंगे। साथ ही पूजा अनुष्ठान के लिए कई योग भी होंगे। कोरोना संक्रमण के चलते शिवालय बंद रहने पर भक्त घर पर ही पूजा करें। घर पर की गई पूजा का फल मंदिर में की गई पूजा के बराबर मिलता है।

पंडित जुगल किशोर मिश्रा, महंत पातालेश्वर महादेव मंदिर

महादेव के पूजन से मिलती है मुक्ति : सावन का महीना भगवान शिव की भक्ति के लिए विशेष माना जाता है। भक्तिरस में डूबे श्रद्धालु बाबा भोलेनाथ के दर्शन और जलाभिषेक मात्र से ही सारे कष्टों से मुक्ति मिल जाती है। इसलिए सावन मास में महादेव की पूजा अर्चना विशेष फलदायी है। नगर के मालगोदाम स्थित हनुमान मंदिर के पुजारी ओमप्रकाश शर्मा ने बताया कि सावन का महीना पूरी तरह से शिव तथा प्रकृति को समर्पित है और इस महीने में जो भी सच्चे दिल से भगवान शिव की आराधना व पूजा अर्चना करता है तो उसको सारे कष्टों से मुक्ति मिल जाती है। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.