top menutop menutop menu

Robbery from ATM : लुटेरों का पता लगाएगी पांच जिलों की टीम

मुरादाबाद। कांठ रोड पर एटीएम काटकर 16.74 लाख लूटकर ले जाने की घटना को लेकर आइजी रमित शर्मा बेहद गंभीर हैं। उन्होंने रविवार की शाम मुरादाबाद परिक्षेत्र के पांचों जिलों के एएसपी और एसओजी प्रभारियों की बैठक ली। इस दौरान सभी से एटीएम लूट की घटना का पर्दाफाश करने के निर्देश दिए।

आइजी ने कहा कि कोरोना संक्रमण से बचाव करते हुए पुलिस को काम करना है। अपने-अपने जिलों में यह पता कर लें कि कच्ची शराब का धंधा किन-किन क्षेत्रों में होता है। रमपुर में पकड़ी गई कच्ची शराब कहीं अन्य जिलों में तो नहीं जा रही है। मादक पदार्थ बेचने की शिकायत मिलने पर भी जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई होगीरा। एटीएम की सुरक्षा को लेकर भी और अधिक गंभीर होने की जरूरत है। सभी जिलों के पुलिस अधिकारी और एसओजी की टीमें सक्रिय अपराधियों के बारे में पता करें। मौके पर एसएसपी अमित पाठक, एसपी ट्रैफिक अशोक कुमार, सीओ कोतवाली राजेश कुमार सिंह, एसओजी प्रभारी अजयपाल सिंह, बिजेंद्र मलिक आदि मौजूद रहे। 

पहले भी एटीएम पर हुए थे हमले 

16 जनवरी की रात को कांठ रोड पेपर मिल अगवानपुर में भी पंजाब नेशनल बैंक के पीछे से दीवार काटकर बदमाशों ने एटीएम काटा था।लेकिन, बदमाशों से नकदी नहीं निकाल पाए थे। बदमाश यहां पर लगेे सीसीटीवी कैमरा और डीबीआर साथ ले गए थे। पुलिस ने इस घटना को ठंडे बस्ते में डाल दिया था। तीन जनवरी की रात को बदमाशों ने थाना मझोला क्षेत्र के लोदीपुर गांव में स्थित प्रथमा बैंक की दीवार काटकर बैंक का लाकर तोडऩे का भी प्रयास किया गया था। इस मामले को भी पुलिस ने ठंडे बस्ते में डाल रखा है। इसके लॉकडाउन से पहले साईं मंदिर के पास हच बैंक के एटीएम को बदमाशों ने तोडऩे की कोशिश की थी। लेकिन, गार्ड के आने के बाद लुटेरे भाग गए थे। पुलिस इस घटना का भी अभी तक खुलासा नहीं कर पाई है।

एटीएम के सीसीटीवी पर कर दिया था काला स्प्रे 

एटीएम में घुसते ही बदमाश ने अंदर के सीसीटीवी कैमरे पर काले रंग का स्प्रे कर दिया था। इससे कैमरे मेेें वीडियो तो बनती रही, लेकिन तस्वीर किसी की नहीं दिखा दे रही है।एटीएम के कैमरे से उनकी फुटेज भी नहीं मिल पाई है। पड़ोस में स्थित आशीष ऑटो मोबाइल्स के सीसीटीवी कैमरों से पुलिस को फुटेज मिल गई है। पुलिस के आला अधिकारियों ने करीब आधा घंटे फुटेज देखकर बदमाशों की पहचान कराने की कोशिश की। लेकिन, अभी तक कोई सुराग नहीं लगा है। दूसरे जिलों को फुटेज भेजकर बदमाशों के बारे में पता कराया जा रहा है। 

20 मिनट में लूट ले गए 16.74 लाख 

एटीएम काटकर ले जाने में बदमाशों को सिर्फ 20 मिनट लगे। काटने वाला इतना एक्सपर्ट था कि उसने इसी स्थान को  निशाना बनाया, जहां से काटकर आसानी से कैश बॉक्स को निकाला जा सकता है। इससे यह बात साफ है कि एटीएम काटने वाले गिरोह पहले भी इस तरह की वारदात को अंजाम दे चुका है।

बंदूक छुपाकर रहे था गार्ड 

आंनदी भारत सिक्योरिटी कंपनी का गार्ड है। उसके पास एक नाली बंदूक भी है। लेकिन, वह इसे छुपाकर रखे रहा। बदमाशों के बंधक बना लेने के बाद तो आनंदी विरोध करने की हिम्मत ही नहीं जुटा पाया। उसे तो अपनी बंदूक लुटने का डर सता रहा था।

गैस कटर से काटा है एटीएम

पुलिस के मुताबिक एटीएम को गैस कटर से काटा गया है। यह पेशेवर अपराधियों के गिरोह का काम है। नए लोग इस तरह की घटना को अंजाम नहीं दे सकते हैं। पुलिस इसी तरह की घटनाओं को अंजाम देने वाले गिरोह के बारे में पता लगा रही है। बरेली, शाहजहांपुर, पीलीभीत और बदायूं में भी इसी तरह की घटनाएं हुई हैं। उनमें जो लोग गिरफ्तार हुए थे। उनके बारे में पता लगाया जा रहा है। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.