No fees no Exam in Moradabad : बैकफुट पर आए प्राइवेट स्कूल, हटाए नो फीस नो एग्‍जाम के पोस्‍टर

स्‍कूलों के गेट पर ऐसे ही पोस्‍टर चस्‍पा क‍िए गए थे।

मुरादाबाद के प्राइवेट स्‍कूलों की ओर से गेट पर नो फीस नो एग्जाम के बैनर लगा द‍िए गए थे। इसके व‍िरोध में आवाज उठनी शुरू हो गईं थीं। दैन‍िक जागरण ने इस मुद्देे को प्रमुखता से प्रकाशित क‍िया था। अब ये बैनर हटा ल‍िए गए हैं।

Publish Date:Sat, 23 Jan 2021 02:40 PM (IST) Author: Narendra Kumar

मुरादाबाद, जेएनएन। नो फीस-नो एग्जाम की मनमानी पर अड़े विद्यालय बैनर लगाने के दूसरे दिन ही बैकफुट पर आ गए। शुक्रवार को ही विद्यालयों की गेट से लगाए गए बैनर हटा लिए गए।

गौरतलब है कि शासनादेश को ठुकराकर विद्यालयाें द्वारा की जा रही इस मनमानी को दैनिक जागरण ने प्रमुखता से उठाया था, जिसके बाद जिला विद्यालय निरीक्षक ने कार्रवाई करने की चेतावनी दी थी। वहीं अभिभावक संघ की ओर से भी इसपर घोर आपत्ति दर्ज कराई गई थी, साथ ही इसकी शिकायत भी मुख्यमंत्री पोर्टल पर की गई थी। दरअसल, मुरादाबाद एसोसिएशन ऑफ पब्लिक स्कूल की ओर से पिछले रविवार को बैठक करके फीस जमा न होने पर छात्रों को परीक्षा में न बैठने देने का फैसला लिया गया था। इसके बाद स्कूलों ने अपने-अपने गेट पर नो फीस-नो एग्जाम के बैनर चपकाने शुरू कर दिए थे। अभिभावकों की आपत्ति पर यह मुद्दा दैनिक जागरण ने उठाया था और शुक्रवार के अंक में प्रमुखता से प्रकाशित भी किया था। खबर छपने के बाद अगले ही दिन विद्यालयों ने इस तरह के बैनर गेट से हटाने शुरू कर दिए हैं। अभिभावक संघ के अनुज गुप्ता का कहना है कि अभिभावकों के संघर्ष के कारण ही यह संभव हो पाया है, उन्होंने कहा कि स्कूलों की मनमानी के खिलाफ उनकी लड़ाई जारी रहेगी।

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.