मुरादाबाद में अब जनता तय करेगी कौन होगा थानेदार, जानिये कैसे और कहां देना होगा फीडबैक

Moradabad Police News मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पुलिस की कार्यप्रणाली में सुधार के लिए सीधे जिले के कप्तानों से बात करके निर्देश दिए हैं। ऐसे में थाना स्तर पर नए प्रभारियों की तैनाती के साथ ही उनकी कार्यप्रणाली की जानकारी जनता से लेने का निर्णय एसएसपी ने लिया है।

Samanvay PandeyMon, 13 Sep 2021 09:31 AM (IST)
एसएसपी ने जनता से फीडबैक लेने का लिया निर्णय, एक ही थाने में जमे प्रभारियों की तैयार हो रही सूची

मुरादाबाद, (रितेश दि्वेदी)। Moradabad Police News : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पुलिस की कार्यप्रणाली में सुधार के लिए सीधे जिले के कप्तानों से बात करके निर्देश दिए हैं। ऐसे में थाना स्तर पर नए प्रभारियों की तैनाती के साथ ही उनकी कार्यप्रणाली की जानकारी सीधे जनता से लेने का निर्णय एसएसपी ने लिया है। इसके लिए इंटरनेट मीडिया के माध्यम से थानेदारों और सिपाहियों की कार्यप्रणाली की जानकारी ली जाएगी। वहीं एसएसपी ने बताया कि जल्द ही गूगल में एक फार्म भी अपलोड किया जाएगा, जिसको भरकर कोई भी नागरिक सीधे एसएसपी तक भेज सकता है। इस नए फार्म में थानेदारों की कार्यप्रणाली को लेकर सवाल पूछे जाएंगे। जनता के इसी फीडबैक के आधार पर थानेदारों की कार्यप्रणाली के बारे में जानकारी ली जाएगी।

थाने में भ्रष्टाचार को लेकर अक्सर शिकायतें उच्च अधिकारियों तक पहुंचती रहती है। लेकिन बहुत कम ऐसे मामले हैं,जो थाने से बाहर ही नहीं निकल पाते हैं। एसएसपी बबलू कुमार ने थाने में तैनात इंस्पेक्टर, दारोगा और सिपाहियों की कार्यप्रणाली की जानकारी के लिए नया तरीका खोजा है। उन्होंने कहा कि आम जनता से थाने की कार्यप्रणाली के बारे में सीधे जानकारी ली जाएगी। ऐसे में इंटरनेट मीडिया के माध्यम के साथ ही आनलाइन फार्म भरकर कोई भी व्यक्ति बिना नाम और पते के थाने के इंस्पेक्टर,दारोगा और सिपाही की कार्यप्रणाली के बारे में जानकारी दे सकता है। जल्द ही इसके लिए एक फार्म तैयार किया जाएगा। जो ऑनलाइन उपलब्ध होगा। जनता से मिली राय के अनुसार थाना पुलिस आंकलन किया जाएगा। शिकायतें गंभीर होने पर कार्रवाई की जाएगी।

पुलिस विभाग में सुधार के लिए उठाए जा रहे कदमः आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर पुलिस विभाग में अभी से तैयारी हो गई है। ऐसे में अच्छे और इमानदार थानेदारों की तैनाती के लिए एसएसपी स्वयं सूची तैयार कर रहे हैं। बीते एक सप्ताह से 50 से अधिक इंस्पेक्टर और दारोगाओं का कैरेक्टर रोल की जांच की जा रही है। जिन इंस्पेक्टरों को कभी प्रशासनिक आधार पर सजा नहीं मिली हैं,उन्हें उनके काम के आधार पर थाने में तैनाती देने का निर्णय लिया जा रहा है। वहीं जनपद में अंडर ट्रांसफर हो चुके थाना प्रभारियों और दारोगाओं को जल्द ही रिलीव किया जाएगा।

जनपद में लगभग छह से अधिक इंस्पेक्टर अंडर ट्रांसफर होने के बाद भी थाने में सेवाएं दे रहे हैं। वहीं कुछ ऐसे भी थाना प्रभारी जमें,जिनका कैरेक्टर रोल् बहुत बेहतर नहीं हैं। ऐसे थानेदारों की जल्द जनपद से रवानगी होगी।मुरादाबाद के एसएसपी बबलू कुमार ने बताया कि थाना प्रभारियों की कार्यप्रणाली के बारे में जनता से सीधा फीडबैक लिया जाएगा। जनता से मिले फीडबैक की प्रत्येक माह समीक्षा की जाएगी। आनलाइन फीडबैक देने के लिए एक फार्म तैयार किया जा रहा है। जिसमें थाने से संबंधित समस्याओं के संबंध में सीधे अवगत कराया जा सकेगा। पुलिस की कार्यप्रणाली में सुधार के लिए लगातार कदम उठाए जा रहे हैं। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.