Moradabad Liquor Smuggling Case : रिश्तेदारों को भी नहीं थी तहखानों की तरफ जाने की इजाजत

ठाकुरद्वारा तहसील के राजपुर केसरिया गांव में तहखाने बनाकर शराब की तस्करी करने वाले राजेंद्र कुमार सैनी गांव वालों के सामने भले ही सीधा सादा इंसान बना रहता था। लेकिन वह बेहद मास्टर माइंड था। तहखाने बनाने के लिए उसने अपने बेटे को राजमिस्त्री का काम सिखवाया।

Narendra KumarFri, 25 Jun 2021 12:45 PM (IST)
कड़े पहरे में रहते थे शराब तस्कर के तहखाने।

मुरादाबाद, जेएनएन। ठाकुरद्वारा तहसील के राजपुर केसरिया गांव में तहखाने बनाकर शराब की तस्करी करने वाले राजेंद्र कुमार सैनी गांव वालों के सामने भले ही सीधा सादा इंसान बना रहता था। लेकिन, वह बेहद मास्टर माइंड था। तहखाने बनाने के लिए उसने अपने बेटे को राजमिस्त्री का काम सिखवाया। उसने रातों रात तहखाने बनवा लिए और गांव वालों को भनक तक नहीं लगी। अवैध शराब के तहखानों पर कड़ा पहरा रहता था। किसी रिश्तेदार को भी तहखानों की तरफ जाने की इजाजत नहीं थी।

डिलारी पुलिस ने शराब तस्कर राजेंद्र सैनी, उसके दो बेटों समेत चार लोगों की मौत के बाद दस के खिलाफ मुकदमा लिखकर कार्रवाई तो कर दी। लेकिन, अवैध शराब के इस धंधे के आखिरी व्यक्ति तक अभी पुलिस नहीं पहुंची है। हालांकि पुलिस तस्करी के इस खेल की जड़ तक पहुंचने की कोशिश में जुट गई है। पुलिस की टीम शराब तस्करी के खेल में हरियाणा कनेक्शन तलाश रही है। पहले पुलिस यह पता लगाने की कोशिश में है कि स्थानीय स्तर पर राजेंद्र सैनी के साथ कौन-कौन जुड़ा था। किन लोगों के पास राजेंद्र का आना-जाना था। हरियाणा में किसके माध्यम के वह शराब की तस्करी करता था। पुलिस इन्हीं सब सवालों का जवाब तलाशने में लगी हुई है। डर की वजह से रिश्तेदारों ने भी राजेंद्र के परिवार से दूरी बना ली है। कोई कितना भी करीबी रिश्तेदार राजेंद्र के घर आता था तो वह स्वजन को समझा देता था कि तहखानों की तरफ कोई नहीं जाएगा। इसलिए बाहर के मैन फाटक की चाबी अपने पास रखता था। सूत्रों का कहना है कि पुलिस में भी राजेंद्र की अच्छी पैंठ थीं। लेकिन, वह ग्रामीणों से नहीं झगड़ता था। उसे हमेशा डर लगा रहता था कि विवाद होने पर उसका भेद खुल सकता है। उसने अपने बेटों को भी समझा रखा था कि किसी से विवाद नहीं करना है। इसलिए गांव के लोग भी उसकी शिकायत नहीं करते थे। थाना प्रभारी सतराज सिंह ने बताया कि शराब तस्करी मामले में सभी छह आरोपितों को जेल भिजवा दिया है। विवेचना में और भी जो नाम सामने आएंगे, उनके खिलाफ भी कार्रवाई होगी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.