दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

Moradabad Health News : डेंगू और मलेरिया के लक्षणों को न करें नजरअंदाज, समय पर जरूरी है इलाज

जिले में नहीं मिला एक भी डेंगू-मलेरिया का मरीज।

Moradabad Health News कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के चक्कर में डेंगू और मलेरिया को नजरअंदाज करना दिक्कत का सबब बन सकता है। इन दिनों स्वास्थ्य विभाग हो या प्रशासनिक अधिकारी सबका ध्यान कोरोना महामारी की रोकथाम पर है।

Narendra KumarMon, 17 May 2021 03:12 PM (IST)

मुरादाबाद, जेएनएन। कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के चक्कर में डेंगू और मलेरिया को नजरअंदाज करना दिक्कत का सबब बन सकता है। इन दिनों स्वास्थ्य विभाग हो या प्रशासनिक अधिकारी सबका ध्यान कोरोना महामारी की रोकथाम पर है। इसको लेकर मलेरिया विभाग भी दवा के छिड़काव में जुटा है। संक्रमण की वजह से डेंगू-मलेरिया के मरीजों की जांच भी नहीं हो पा रही है। इसलिए हर बुखार को कोरोना समझने की भूल न करें। फौरन ही चिकित्सक से संपर्क करें।

मौसम में बदलाव होने की वजह से तेज हवाएं और हल्‍की बारिश की वजह से मच्छर पनप रहे हैं। अक्टूबर से पहले ही वायरल फीवर के मरीजों की संख्या भी बढ़ी है। ऐसे में डेंगू और मलेरिया होने के चांस भी अधिक है। इसलिए हर बुखार को कोरोना से जोड़कर नहीं देखा जाए। लक्षण पहचानने के बाद फौरन ही चिकित्सक से संपर्क करें। सामुदायिक-प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर मलेरिया, डेंगू, चिकनगुनिया और वायरल बुखार के एक या दो मरीज पहुंच रहे हैं। ओपीडी सेवाएं बंद होने से सिर्फ इमरजेंसी में आने वाले मरीजों को ही उपचार मिल पा रहा है। बाकी निजी पैथलैब से जांच कराने के बाद पुष्टि हो रही है।

2021

तारीख,                                डेंगू,                 मलेरिया,                वायरल फीवर

एक अप्रैल से 15 मई तक,      00,                   09,                        587,

2020

तारीख,                              डेंगू,                    मलेरिया,                वायरल फीवर

15 सितंबर से 30 अक्टूबर,   02,                      22,                       157,

2019

तारीख,                             डेंगू,                     मलेरिया,               वायरल फीवर

15 सितंबर से 30 अक्टूबर,    22,                    125,                       259,

डेंगू, मलेरिया, वायरल फीवर और कोरोना के अधिकतर लक्षण एक जैसे हैं। अभी डेंगू मलेरिया के मरीज नहीं हैं। लेकिन, अगर बुखार आ रहा है तो पहले अस्पताल आने का प्रयास न करें। चिकित्सक से फोन पर ही संपर्क करके दवा ले लें।

डॉ. संजीव बेलवाल, जिला मलेरिया अधिकारी

डेंगू से बचाव के उपाय

डेंगू का मच्छर दिन में काटता है, पूरा बदन ढकने वाले कपड़े पहनें, घर के आसपास, गमलों और पुराने टायरों में पानी जमा नहीं होने दें,  कूलर का पानी बदलते रहें और फ्रिज के पीछे लगी ट्रे की नियमित सफाई करें, मच्छरदानी और मच्छरों को भगाने वाले कॉयल का प्रयोग करें।

डेंगू के लक्षण

तेज बुखार, मांसपेशियों, जोड़ों में दर्द, त्वचा पर लाल चकत्‍ते और थकान महसूस होना, जी मचलना और उल्टी आने जैसा महसूस होना, आंखों में दर्द और ग्रंथियों में सूजन। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.