परियोजनाओं की सुस्त रफ्तार पर मुरादाबाद मंडलायुक्त ने जताई नाराजगी, समीक्षा बैठक में गैरहाजिर अफसरों से मांगा स्पष्टीकरण

Moradabad Divisional Commissioner मण्डल में 50 लाख से अधिक लागत की निर्माणाधीन परियोजनाओं की समीक्षा बैठक सोमवार को मंडलायुक्त कार्यालय सभागार में हुई। कई परियोजनाओं की प्रगति धीमी होने पर मंडलायुक्त आन्जनेया कुमार सिंह ने नाराजगी जताई।

Samanvay PandeyTue, 28 Sep 2021 03:57 PM (IST)
समीक्षा बैठक में गैरहाजिर रहने पर क्षेत्रीय उच्च शिक्षाधिकारी सहित कई अधिकारियों से स्पष्टीकरण तलब।

मुरादाबाद, जेएनएन। Moradabad Divisional Commissioner : मण्डल में 50 लाख से अधिक लागत की निर्माणाधीन परियोजनाओं की समीक्षा बैठक सोमवार को मंडलायुक्त कार्यालय सभागार में हुई। कई परियोजनाओं की प्रगति धीमी होने पर मंडलायुक्त आन्जनेया कुमार सिंह ने नाराजगी जताई। क्षेत्रीय उच्च शिक्षा अधिकारी बरेली के बैठक में गैरहाजिर रहने तथा अपने स्थान पर राजकीय डिग्री कालेज भोजपुर के शिक्षक को बैठक में भेजने पर मंडलायुक्त ने क्षेत्रीय उच्च शिक्षा अधिकारी के संबंध में स्पष्टीकरण तलब करने के निर्देश दिए।

अपर मुख्य अधिकारी जिला पंचायत सम्भल के अनुपस्थित रहने पर उनके द्वारा कराए जा रहे कार्यों की जांच करने के निर्देश दिये हैं। आवास विकास परिषद मुरादाबाद द्वारा हसनपुर के ग्राम रखैडा में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का निर्माण तथा नौगावा सादात विधान सभा के ग्राम वस्तापुर में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का निर्माण हेतु धनराशि उपलब्ध होने के बावजूद निर्माण कार्यों की गति धीमी पाये जाने पर मंडलायुक्त ने जांच के आदेश दिए।

यूपीपीसीएल 33 के परियोजना प्रबंधक मनोज साहू के बैठक में अनुपस्थित रहने और उनके द्वारा कराए जा रहे निर्माण कार्य के शुरू नहीं होने की स्थिति होने पर परियोजना प्रबंधक का स्पष्टीकरण किया गया। बैठक में अपर आयुक्त प्रशासन बीएन यादव, संयुक्त विकास आयुक्त श्रीकृष्ण पांडे, डिप्टी कमिश्नर गजेंद्र प्रताप सिंह, अपर निदेशक तथा समस्त संबंधित कार्यदायी संस्थाओं के मंडलीय, जनपदीय अधिकारीगण, सभी अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद, नगर पंचायत उपस्थित रहे।

शिक्षक संघ के चुनाव कराए जाने की उठाई मांग : उप्र प्राथमिक शिक्षक संघ के पूर्व महानगर अध्यक्ष गौरव सक्सेना की अध्यक्षता में हुई। इसका संचालन पूर्व मंत्री कौशर अशरफ ने किया। गौरव सक्सेना ने कहा कि शिक्षकों की समस्याओं का निस्तारण समय से नहीं हो रहा है। वर्तमान कार्यकारिणी शिक्षकों की समस्याओं के समाधान पर ध्यान नहीं दे रही है। इसके कारण शिक्षकों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। वर्तमान कार्यकारिणी का कार्यकाल भी पूरा हो चुका है। कोरोना की स्थिति भी सामान्य है। बैठक में सभी ने एकमत से चुनाव कराए जाने की जाने की मांग उठाई। मांग की गई संगठन की ओर से जल्द से जल्द चुनाव कार्यक्रम घोषित किया जाए। व्योम गुप्ता, चंचल सक्सेना, अशोक कुमार स्रोत्रीय, उवैद उर रहमान, आशा बजेला, पिंकी भाटिया आदि शिक्षक मौजूद रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.