मुरादाबाद में सख्ती के बीच गणित का पेपर संपन्न

मुरादाबाद: यूपी बोर्ड की 10वीं और 12वीं की परीक्षाओं का आगाज हो चुका है। शनिवार को सुबह की पाली में दसवीं गणित विषय की परीक्षा आयोजित हुई। एनसीईआरटी से संबंधित प्रश्न आए। प्रश्नपत्र में सात खंड थे जो सभी आसान थे, परीक्षा छूटते ही परीक्षार्थियों के चेहरे की मुस्कान बता रही थी कि उनका प्रश्न पत्र सही हुआ है। मेथोडिस्ट ग‌र्ल्स कॉलेज से परीक्षा देकर बाहर निकलती करिश्मा ने बताया कि सभी खंड आसान थे और समय से उनको हल कर दिया। अलीशा का कहना है कि कोई भी प्रसन्न कठिन नहीं था जिसने पढ़ाई की है उसके लिए प्रश्नपत्र आसान था। शिवानी, आचल और पारुल ने भी प्रश्नपत्र आसान बताया। इनका कहना है कि सामान्य स्तर के बच्चों को ध्यान में रखकर प्रश्नपत्र आया था, जिसमें सभी सवाल परीक्षार्थियों ने आसानी से हल कर दिए। सभी 125 सचल दलों परीक्षा केंद्रों पर को गणित की परीक्षा में विशेष चेकिंग के निर्देश दिए गए हैं। अभी किसी प्रकार की नकल या गड़बड़ी से डीआईओएस प्रदीप कुमार द्विवेदी ने इन्कार किया है। बोर्ड परीक्षा में कुल 83730 परीक्षार्थी पंजीकृत हैं। आइसीएसई बोर्ड की परीक्षा दोपहर 2:00 बजे से शुरू होगी। बोर्ड परीक्षा में सभी केंद्रों पर अतिरिक्त केंद्र व्यवस्थापक लगाए गए हैं। सीसीटीवी रिकॉर्डर की निगरानी में बोर्ड परीक्षाएं हो रही है। सात फरवरी से आयोजित बोर्ड परीक्षाओं में अभी तक छह नकलची पकड़े गए हैं। जो पिछले दो सालों की अपेक्षा में 10 फीसद भी नहीं है। अधिकारियों के अनुसार सीसीटीवी और वॉइस रिकॉर्डर से परीक्षा की पारदर्शिता में काफी सुधार आया है। संवेदनशील अतिसंवेदनशील परीक्षा केंद्रों पर पर्यवेक्षकों की विशेष टीम में लगी हुई है। वह पल-पल की जानकारी कंट्रोल रूम को उपलब्ध करा रहे हैं। सचल दल चेकिंग के दौरान सीसीटीवी का बैकअप भी देख रहे हैं ताकि उनकी गैरमौजूदगी में कोई परीक्षार्थी अगर नकल कर रहा था तो उस पर कार्रवाई की जा सके। केंद्रों पर उचित रोशनी के प्रबंध के निर्देश जारी मौसम विभाग के मौसम खराब रहने के अलर्ट जारी करने के बाद केंद्र व्यवस्थापकों को केंद्रों पर उचित रोशनी के प्रबंध के निर्देश जारी किए गए है। जिससे परीक्षार्थियों को किसी भी प्रकार की असुविधा न हो। पेपर में न लगाएं कोई टिक डीआइओएस ने परीक्षार्थियों से अपील की है कि पेपर में कोई टिक न लगाएं, कुछ न लिखे। कक्ष निरीक्षकों को परीक्षार्थियों को प्रश्नपत्र बांटने से पहले परीक्षार्थियों को यह जानकारी देने के निर्देश जारी किए गए है।

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.