दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

Leopard in Moradabad : तेंदुए ने ग्रामीणों पर क‍िया हमला, सात लोग घायल, गांव में पहुंची वन व‍िभाग की टीम

डिलारी थाना क्षेत्र के मुस्तफापुर बड़हरा गांव में हुई घटना।

प्रधान पति शराफत हुसैन ने बताया कि तेंदुए के हमले में कुल सात लोग घायल हुए हैं। जिसमें मुहम्मद सफी की हालत ज्यादा गंभीर होने पर मुरादाबाद के निजी अस्पताल में रेफर किया गया है। शेष घायलों का इलाज गांव में किया जा रहा है।

Narendra KumarTue, 18 May 2021 08:55 AM (IST)

मुरादाबाद, जेएनएन। तेंदुए के आतंक से पूरा गांव कांप गया। तेंदुए ने पहले दो युवकों पर हमला किया। इसके बाद उन युवकों को बचाने आए लोगों पर हमला बोल दिया। इस हमले में सात ग्रामीण घायल हो गए। जिसमें तीन ग्रामीण बुरी तरह जख्मी हो गए। एक की हालत गंभीर होने पर मुरादाबााद के निजी अस्पताल में रेफर किया गया। डीएफओ कन्हैया पटेल ने बताया कि तेंदुए की हमला करने की सूचना पर एक टीम को तत्काल रवाना किया गया। ग्रामीणों की सुरक्षा को सुनिश्चत करने के साथ पिंजरा लगाने की कार्रवाई भी की जा रही है।

डिलारी थाना क्षेत्र के मुस्तफापुर बड़हरा गांव में सोमवार शाम को मुहम्मद इस्लाम और मुहम्मद अफसर शहर से लौट रहे थे। गांव से करीब पांच सौ मीटर की दूरी पर बाजरे के खेत से अचानक एक तेंदुआ निकला और दोनों युवकों पर हमलावर हो गया। युवकों ने किसी तरह भाग कर जान बचाई, लेकिन इस दौरान उनकी पीठ पर तेंदुए का पंजा लगने से घाव हो गया। गांव पहुंचकर उन्होंने सभी का घटना की जानकारी दी, जिसके बाद सौ से सवा सौ ग्रामीण हाथों में लाठी-डंडे लेकर तेंदुए को भगाने के लिए आ गए। तेंदुए की दहशत से गांव के लोगों ने बच्चों और महिलाओं को घर के अंदर बंद कर दिया। भीड़ जब बाजरे के खेत की तरफ तेंदुए को भगाने के लिए बढ़ी तभी तेंदुए ने भीड़ में मौजूद गांव के निवासी मुहम्मद सफी के चेहरे पर पंजा मार दिया। इससे उसकी एक आंख गंभीर रूप से जख्‍मी हो गई। वहीं दूसरा हमला इकराम के सिर पर किया, जबकि जाकिर के कंधे पर झपट्टा मार दिया। तेंदुए के इस हमले में तीनों बुरी तरह जख्मी हो गए। वहीं इस दौरान इस्लाम, अकरम, नदीम और मुहम्मद अफसर को हल्की चोटें आई हैं। 

पुलिस के साथ वन विभाग की टीम पहुंची

गांव में तेंदुए के द्वारा हमला करने सूचना मिलते ही डीएफओ कन्हैया पटेल ने रेंजर सुरेश चंद्र जोशी के नेतृत्व में एक टीम को रवाना कर दिया। वहीं ग्रामीणों ने हमले के बाद डायल 112 को सूचना दी थी। जिसके बाद पीआरवी वाहन के जवानों ने घायलों को अपने वाहन में बिठाकर अस्पताल पहुंचाने की कार्रवाई की। डिलारी थाना प्रभारी सतराज ने बताया कि तेंदुए के हमले की सूचना के बाद गांव में शांति व्यवस्था के लिए पुलिस कर्मियों को भेजा गया है। इसके साथ ही वन विभाग के अफसरों को इस घटना की तत्काल सूचना भेजी गई थी। वन विभाग की टीम भी मौके पर जांच करने के लिए पहुंच गई है।

ग्रामीण बोले आदमखोर है तेंदुआ

तेंदुए के आने से गांव में दहशत का माहौल है। ग्रामीणों ने बताया कि बीते कई माह से तेंदुए की दहशत में लोग जी रहे हैं। इस संबंध में कई उच्च अधिकारियों के साथ ही वन विभाग के अधिकारियों को सूचना दी गई थी, लेकिन इसके बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की गई। अभी तक तेंदुआ गांव के जानवरों को शिकार करता था, लेकिन अब वह इंसानों पर हमला करने लगा है।

तेंदुए के द्वारा हमला करने की जानकारी मिलने पर एक टीम को मौके पर रवाना किया गया है। कितने लोग घायल हुए हैं,यह जांच के बाद ही पता चलेगा। गांव के लोगों की सुरक्षा के लिए सभी जरूरी निर्देश दिए गए हैं।कन्हैया पटेल, डीएफओ,मुरादाबाद

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.