Pulwama Terror Attack : MIT छात्र के पुलवामा आतंकियों का समर्थन करने पर बवाल, फायरिंग में दो छात्र घायल

मुरादाबाद, जेएनएन। जम्मू-कशमीर के पुलवामा में आतंकी हमले में अर्धसैनिक बल के जवानों के शहीद होने पर छात्र के फेसबुक पर पाकिस्तान जिंदाबाद लिखने के मामले पर विवाद काफी बढ़ गया है। यहां के एमआइटी के छात्र मुजस्सम गनी के कथित रूप से अपने फेसबुक वाल पर पाकिस्तान जिंदाबाद लिखने पर विवाद इतना बढ़ गया कि उसने हिंसा का रूप ले लिया है। छात्रों के गुटों के बीच फायरिंग में दो लोग घायल हो गए हैं। कॉलेज को बंद कर दिया गया है। 

मुरादाबाद के एमआइटी परिसर में आज जमकर बवाल हुआ। छात्र की फेसबुक वॉल पर टिप्पणी से क्षुब्ध होकर एमआइटी परिसर में घुसे हिंदू युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने इस छात्र को ढूंंढने के लिए जमकर बवाल किया। उन्होंने न सिर्फ यहां पा छात्रों पर हमला किया बल्कि समझाने पहुंचे शिक्षकों के साथ भी मारपीट की। बवाल के दौरान बाहरी तत्वों ने हवा में गोली भी चलाई। मारपीट के दौरान दो छात्रों को चोट आई है। इस घटना की सूचना पाकर पहुुंची पुलिस ने उत्पात मचा रहे युवाओं को वहां से खदेड़ा है। 

बताया जा रहा है कि अपनी फेसबुक वॉल पर पाकस्तिान जिंदाबाद लिखने वाला मुजस्सम गनी एमआइटी मेंं ही फार्मस्यूटिकल का छात्र है। वह शहर के पाकबाड़ा में किराए पर कमरा लेकर रहता है। पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है। उसकी तलाश की जा रही है। उसका पूरा विवरण एवं पता भी पुलिस ने एमआइटी से मांगा है। विरोध करने वाले सदस्यों का कहना है कि घटना के बाद से ही फेसबुक उसनेे पाकिस्तारन जिंदाबाद की डीपी लगा रखी है। लगी है। जानकारी पर आज विरोध शुरू हुआ।

आरोप है कि छात्र ने अपनी फेसबुक वॉल पर पुलवामा के आतंकी हमले का समर्थन करते हुए पोस्ट डाली थी, जिसे पढऩे में बाद हिंदू युवा मोर्चा के कार्यकर्ता बड़ी संख्या में एकत्रित होकर एमआईटी पहुंच गए। एक साथ भीड़ को कैंपस में घुसते हुए देख कर वहां तैनात सुरक्षा कर्मियों ने उन्हें रोकने का प्रयास किया। सभी कार्यकर्ता उन्हें धक्का देते हुए अंदर घुसते चले गए। इसके बाद वे कैम्पस में पोस्ट करने वाले छात्र को तलाशने में जुट गए। इस दौरान अन्य छात्रों से भी बदसलूकी की।  

सूचना पाकर प्रबंधन भी मौके पर पहुँचा। उत्पात मचा रहे युवकों को रोकने का प्रयास किया गया तो वे शिक्षकों से भी उलझ गए। इस दौरान शिक्षकों के साथ भी हाथापाई और मारपीट शुरू कर दी। थोड़ी देर में देखते देखते माहौल बिगड़ गया और बाहर से आए युवकों ने फायरिंग शुरू कर दी। गनीमत रही गोली किसी को नहीं लगी। गोलियों की आवाज सुनकर महाविद्यालय परिसर में अफरा तफरी मच गई। सभी छात्र छात्राएं कक्षाओं से निकल कर बाहर आ गए। कुछ छात्र शिक्षकों का समर्थन करते हुए मारपीट करने वाले युवकों से भिड़ गए। इसमें एक शिक्षक हरीश व छात्र राघव के चोट आई हैं । मौके पर पुलिस भी पहुंच गई, तब तक सभी आरोपित भाग निकले।

एमआइटी मेंं अवकाश घोषित

एमआइटी प्रशासन ने बवाल के बाद छुट्टी घोषित कर दी। थोड़ी देर में पूरा परिसर खाली हो गया। कॉलेज प्रशासन का कहना है कि अभी स्पष्ट नहीं हो पाया है कि पोस्ट करने वाला छात्र कॉलेज का ही है या किसी बाहरी ने फेक आईडी से पोस्ट किया है। पुलिस के पहुंचने के बाद उत्पाद मचा रहे हिन्दू युवा मोर्चा के कार्यकर्ता वहां से भाग निकले।

मुरादाबाद के सब्जीपुर उमरी का रहने वाला है छात्र

पुलवामा में सीआरपीएफ पर आतंकी हमले के बाद से पाकिस्तान जिंदाबाद की डीपी लगाने वाला छात्र मुरादाबाद के पाकबड़ा क्षेत्र के सब्जीपुर उमरी गांव का रहने वाला है। एमआइटी में भरे गए एडमिशन फॉर्म के अनुसार उसके पिता का नाम खलील अहमद है तथा उन्हें किसान बताया गया है। उसने जुलाई 2018 में एमआईटी में फार्मेसी में एडमिशन लिया था। अपने वाट्सएप की अपनी डीपी पर पाकिस्तान जिंदाबाद की फ़ोटो लगाई थी। सुबह करीब 8:30 बजे उसने अपडेट किया था। एमआईटी के डायरेक्टर निदेशक डॉ भानु प्रताप सिंह ने बताया कि छात्र की डिटेल निकालने के बाद उससे संबंधित सूचनाओं की जांच की गई। जांच में उसकी हरकत सही पाई गई है। इस कृत्य के लिए उसे कॉलेज से निष्कासित कर दिया गया है। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.