मुरादाबाद में वाहन चोरों के अंतर जनपदीय गिरोह का पर्दाफाश, तीन आरोपित गिरफ्तार

महानगर में सक्रिय वाहन चोरों के एक अंतर जनपदीय गिरोह का पर्दाफाश।

महानगर में सक्रिय वाहन चोरों के एक अंतर जनपदीय गिरोह का पर्दाफाश सिविल लाइंस पुलिस ने किया। हत्थे चढ़े तीन आरोपितों के कब्जे से चोरी की पांच बाइक बरामद हुई। चोरी की सभी बाइक एक खंडहर में छिपा कर रखी गईं थीं।

Narendra KumarSat, 10 Apr 2021 11:47 AM (IST)

मुरादाबाद, जेएनएन। महानगर में सक्रिय वाहन चोरों के एक अंतर जनपदीय गिरोह का पर्दाफाश सिविल लाइंस पुलिस ने किया। हत्थे चढ़े तीन आरोपितों के कब्जे से चोरी की पांच बाइक बरामद हुई। चोरी की सभी सभी बाइक एक खंडहर में छिपा कर रखी गई थी। तीनों आरोपित जेल भेज दिए गए।

एएसपी/सीओ सिविल लाइन अनिल कुमार यादव ने बताया कि कांठ रोड पर नोसगे स्कूल तिराहे के समीप सिविल लाइंस पुलिस वाहनों की जांच कर रही थी। तभी एक बाइक पर सवार तीन युवक गुजरे। पुलिस ने उन्हें रोका। बाइक के कागजात मांगे। कागजात नहीं मिले। तीनों को थाने लाकर पूछताछ की गई। तब उन्होंने बरामद बाइक चोरी का बताया। पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की। तीनों ने खुद को वाहन चुराने वाले गिरोह का सदस्य बताया। तीनों की निशानदेही पर कांशीराम चौराहे के समीप एक खंडहर से चोरी की चार अन्य बाइक बरामद कीं गई। वाहन चोर  की पहचान सत्यम निवासी रेलवे कालोनी मनोकामना मंदिर के सामने सिविल लाइंस, अभिषेक विश्नोई निवासी कॉसमास अस्पताल के पास नई बस्ती थाना सिविल लाइंस व शिवा तोमर निवासी ग्राम खासपुर थाना मझोला, हाल निवासी चिडिय़ा टोला थाना मझोला के रूप में हुई। छानबीन में पता चला कि बरामद वाहन जिले के अलग- अलग थाना क्षेत्रों से चोरी हैं। आरोपितों के कब्जे से एक स्कूटी भी बरामद हुई है। सभी बदमाशों के खिलाफ वाहन चोरी का अभियोग दर्ज किया गया। तीनों आरोपित कोर्ट में पेश हुए। वहां से तीनों को जेल भेज दिया गया। वाहन चोरों के गिरोह का सरगना सत्यम है। उसके खिलाफ सिविल लाइंस, मझोला और सिटी कातवाली में सात मुकदमे दर्ज हैं।

लॉकडाउन में ऑटो लिफ्टर बना मैकेनिक

बाइक चुराने के आरोप में जिन तीन युवकों को पुलिस ने जेल भेजा, वह लाॅकडाउन से पहले अपना कारोबार करते थे। लाकडाउन में काम छूटते ही वह अपराध की राह पर बढ़ चले। छठीं तक पढ़ा सत्यम ऑटो मैकेनिक था। लॉकडाउन में उसका काम भी ठप हो गया। शिवा तोमर और अभिषेक विश्नोई के साथ मिलाकर उसने वाहन चोरों का गैंग खड़ा किया। पूरे जनपद में घूम कर वह ऑटो लिफ्टिंग का काम करने लगे। अप्रैल 2020 से पहले सत्यम के खिलाफ कोई मुकदमा दर्ज नहीं है। उसके खिलाफ जितने भी मुकदमे दर्ज हैं, सभी लॉकडाउन के बाद के हैं। सत्यम और उसके साथियों ने भी इसे स्वीकार किया।

यह भी पढ़ें :-

Night curfew in Moradabad : एक साल 17 दिन बाद फिर लगीं पाबंदियां, कोरोना संक्रम‍ितों की संख्‍या बढ़ती रही तो लग सकता है लॉकडाउन

उपभोक्‍ताओं के ल‍िए बीएसएनएल का एक और बड़ा प्‍लान, 449 रुपये में लीज‍िए 3300 जीबी डाटा, फ्री कॉल भी कर सकेंगे

Moradabad Coronavirus News : ज‍िले में डीएम समेत 113 कोरोना संक्रमित, संक्रमण से एक महिला की मौत

Night curfew in Moradabad : ज‍िले में नाइट कर्फ्यू लागू, अनावश्‍क बाहर घूमने वालों पर होगी कार्रवाई, ये सेवाएं रहेंगी जारी

Corona Vaccination in Moradabad : आज ज‍िले में चार हजार लोगों को लगाया जा रहा कोरोना से बचाव का टीका, लखनऊ रवाना हुई टीम

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.