Indian Railways : अब ट्रेन से माल भेजने के लिए कराना होगा आरक्षण, 750 स्टेशनों पर खुलेंगे आरक्षण बुकिंग काउंटर, होगा ये फायदा

कंप्यूटराज्ड माल ढुलाई आरक्षण सिस्टम लगाने के लिए स्टेशनों का हो रहा चयन।

Railway parcel goods booking reservation रेलवे तीन चरण में देश भर के प्रमुख शहरों के 750 स्टेशन पर पार्सल प्रबंधन प्रणाली सिस्टम लगाएगा। इस वित्तीय वर्ष में 84 स्टेशनों का चयन करके सिस्टम लगाने का काम शुरू हो गया है।

Narendra KumarSun, 18 Apr 2021 09:21 AM (IST)

मुरादाबाद [प्रदीप चौरसिया]। यात्री जिस प्रकार आरक्षण टिकट कराकर अपनी सीट आरक्षित कराते हैं, अब उसी तरह माल भेजने के लिए भी आरक्षण कराना होगा। रेलवे तीन चरण में देश भर के 750 स्टेशनों पर आरक्षण बुकिंग काउंटर खोलने की योजना तैयार कर रहा है। पहले चरण के लिए अप्रैल से स्टेशनों के चयन का काम शुरू हो चुका है। चयनित स्टेशनों पर कंप्यूटराज्ड माल बुकिंग सिस्टम लगाए जाएंगे।

वर्तमान में व्यापारी द्वारा माल की बुकिंग कराने के बाद ट्रेन के पार्सल में जगह खाली न होने से सामान कई दिनों तक प्लेटफार्म पर ही पड़ा रहता है। बरसात में माल भीगने पर खराब होने का भी खतरा रहता है। इस समस्या को खत्म करने के उद्देश्य से रेलवे माल बुकिंग के लिए आरक्षण सिस्टम लाने जा रहा है। इसके लिए रेलवे तीन चरण में देश भर के प्रमुख शहरों के 750 स्टेशन पर पार्सल प्रबंधन प्रणाली सिस्टम लगाएगा। इस वित्तीय वर्ष में 84 स्टेशनों का चयन करके सिस्टम लगाने का काम शुरू हो गया है, जिन स्टेशनों पर सबसे ज्यादा माल की ढुलाई होती है, वहां पहले चरण में सिस्टम लगेंगे। द्वितीय चरण में 143 व तृतीय चरण में 523 स्टेशनों पर सिस्टम लगेंगे। जिन स्टेशनों पर सिस्टम लग जाएंगे, वहां व्यापारी 120 दिन पहले पार्सल में बुकिंग करा सकते हैं। पार्सल बुक टिकट पर बारकोड होगा, जिसे स्कैन कर व्यापारी उसका माल कहां पहुंचा, कहां चल रहा है। इसकी जानकारी कर सकते हैं। सहायक वाणिज्य प्रबंधक नरेश सिंह ने बताया कि प्रमुख स्टेशन पर पार्सल प्रबंधन प्रणाली सिस्टम लगाया जाना है। इसके बाद व्यापारी माल भेजने के लिए पार्सल बोगी में स्थान आरक्षित कर सकते हैं। इससे व्यापारी का कम समय में माल गंतव्य तक पहुंचा सकेंगे।

बुकिंग के फायदे

ट्रेन आने से दो घंटे पहले तक स्टेशन के पार्सल घर में माल जमा कराना होगा।

आरक्षित पार्सल बोगी में कर्मचारी सामान रख देंगे, बार-बार पूछने की चिंता खत्म।

ट्रेन चलते ही एसएमएस द्वारा मोबाइल पर सूचना पहुंचेगी। गतव्य पर ट्रेन से माल उतरते ही भेजने वालों को सूचना मिल जाएगी। व्यापारी जानकारी कर पाएंगे कि ट्रेन अभी कहां चल रही है। यह व्यवस्था डाकघर के पार्सल भेजने की तर्ज पर तैयार की गई है।

मंडल के सात स्टेशनों पर पहले चरण में लगाए जाएंगे सिस्टम

मुरादाबाद रेल मंडल के सात स्टेशनों पर पहले चरण में यह सिस्टम लगाया जाना है। मार्च 2022 से यह सुविधा व्यापारियों को म‍िलनी शुरू हो जाएगी।  पहले चरण में मुरादाबाद, बरेली, देहरादून, हरिद्वार, नजीबाबाद, रुड़की व हापुड़ में पार्सल प्रबंधन प्रणाली लगाई जानी है। यह काम मार्च 2022 तक पूरा किया जाना है। दूसरे चरण में रेल मंडल के सभी प्रमुख स्टेशनों पर यह सिस्टम लगाने की योजना है। देश भर के सभी स्टेशनों पर सिस्टम लग जाने के बाद व्यापारी आनलाइन पार्सल बुकिंग के लिए टिकट ले पाएंगे। 

यह भी पढ़ें :-

युवक ने मह‍िला के प्राइवेट पार्ट पर रखा हाथ, कहा-मुरादाबाद की पुलिस मेरा कुछ नहीं कर सकती

बैंक प्रबंधक के बेटे ने ल‍िखा पत्र-जब तक रुपये हैं, मैं ज‍िंंदा रहूंगा, मेरा पीछा मत करना, तलाश में मुरादाबाद पुलिस

मेरी सांसें उखड़ रहीं हैं, आप अपना ख्याल रखिएगा...कोरोना संक्रम‍ित डॉ. मीना कौल ने मौत से पहले फोन पर कही ये बात

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.