मुरादाबाद के ड‍िलारी में स्‍कूल में बना रहे थे अवैध हथ‍ियार, पुलिस ने दो को पकड़ा

डिलारी पुलिस की छापेमारी के दौरान दोनों तस्कर हत्थे चढ़ गए।

Construction of illegal weapons in school डिलारी थाना क्षेत्र के नाखूनका गांव में स्थित एक स्कूल में अवैध हथियारों का निर्माण लाकडाउन के दौरान शुरू हुआ। पुलिस ने मामले में कार्रवाई करते हुए दो आरोप‍ितों को पकड़ ल‍िया।

Publish Date:Wed, 27 Jan 2021 10:19 AM (IST) Author: Narendra Kumar

मुरादाबाद, जेएनएन। शिक्षा के मंदिर में अवैध हथियार बनाने वाले गैंग का सरगना साथी समेत हत्थे चढ़ गया है। डिलारी पुलिस की छापेमारी के दौरान दोनों तस्कर हत्थे चढ़ गए। दोनों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया।

डिलारी थाना क्षेत्र के नाखूनका गांव में स्थित एक स्कूल में अवैध हथियारों का निर्माण लाकडाउन के दौरान शुरू हुआ। गैंग सरगना धर्मानंद भटनागर समेत कई आरोपितों ने अवैध हथियार बनाने शुरू कर द‍िए। इसकी भनक लगते ही डिलारी पुलिस ने स्कूल में छापेमारी की। भारी मात्रा में अवैध शस्त्र बरामद हुए। मौके से चार आरोपितों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया। गैंग सरगना धर्मानंद भटनागर, सोनू पेंटर व मिक्की फरार चल रहे थे। इस बीच पुलिस को खबर मिली कि सरगना धर्मानंद भटनागर व उसका साथी सोनू पेंटर नाखूनका में हैं। थाना प्रभारी सतराज सिंह ने दलबल के साथ दोनों की घेरेबंदी की। दोनों आरोपितों को दबोचने में पुलिस को सफलता मिली। गैंग सरगना धर्मानंद भटनागर थाना भोजपुर क्षेत्र के गांव पीपलसाना का मूल निवासी है। थानाध्यक्ष ने बताया कि धर्मानंद भट्ट दो स्कूलों का संचालक है। आदर्श माध्यमिक स्कूल भोजपुर में है। जबकि दूसरा आनंद पब्लिक स्कूल नाखूनका गांव में है। वर्ष 2016 में धोखाधड़ी व जालसाजी के आरोप में उसे जेल भेजा जा चुका है। धर्मानंद पर अल्पसंख्यक छात्रों की 93,00,000 लाख रुपए की छात्रवृत्ति हड़पने का आरोप है।

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.