प्रेमी की बेवफाई से आहत युवती ने उठाया बड़ा कदम, रोडवेज बस चालक की समझदारी से फ‍िर से बस गया उसका घर

दोनों युवक और युवती ने साथ जीने-मरने की कसमें खाईं। महीनेभर पहले युवती अपना घर छोड़कर युवक के साथ रहने चली आई। वह युवक के साथ रहने लगी। लेकिन अब युवक ने उसे घर से बाहर निकाल दिया।

Narendra KumarMon, 06 Dec 2021 01:33 PM (IST)
पुलिस ने दोनों पक्षों में समझौता करा दिया।

मुरादाबाद, संवाद सहयोगी। प्रेमी की बेवफाई से परेशान होकर एक युवती ने बड़ा कदम उठा ल‍िया। दरअसल ज‍िस प्रेमी के ल‍िए वह अपने पूरे पर‍िवार को छोड़कर उसके साथ रहने आई थी उसी ने ही उसे दुत्‍कार द‍िया। इससे आहत युवती रोडवेज़ बस के सामने कूदकर आत्महत्या करने के ल‍िए पहुंच गई। मौके पर मौजूद लोगों ने उसे बचा लिया। बाद में पुलिस ने दोनों पक्षों में समझौता करा दिया।

मामला रामपुर के ब‍िलासपुर का है। उत्तराखंड के रुद्रपुर की एक युवती का भोट क्षेत्र के एक युवक से काफी समय से प्रेम-प्रसंग चल रहा था। दोनों ने साथ जीने-मरने की कसमें खाईं। महीनेभर पहले युवती अपना घर छोड़कर युवक के साथ रहने चली आई। वह युवक के साथ रहने लगी। लेकिन, अब युवक ने उसे घर से बाहर निकाल दिया। इस पर वह रोती-बिलखती नैनीताल हाईवे पर पहुंच गई और रोडवेज़ बस के सामने कूदकर आत्महत्या का प्रयास करने लगी। ड्राइवर ने इमरजेंसी ब्रेक लगाकर जैसे-तैसे कर युवती को बचाया। लोगों ने उसे सड़क से हटा दिया और उसे समझाया। बाद में मौके पर पहुंची पुलिस ने उसे समझाया। इसके बाद युवक को भी बुलाया। वह युवक के साथ चली गई।

मुकदमा दर्ज नहीं कर रही पुलिस : रामपुर के टांडा में पुलिस ने चार दिन बाद भी बंद घर में हुई चोरी की रिपोर्ट को दर्ज नहीं किया है। जबकि लोगों ने मौके से चोरी करते दो युवकों को भी पकड़कर पुलिस को सौंपा था। दढ़ियाल में काशीपुर मार्ग पर पूर्व जिला पंचायत सदस्य हाजी इकरार हुसैन का मकान है। एक साल पहले जिला अधिकारी के आदेश पर प्रशासन ने गैंगस्टर एक्ट के मामले में इस मकान को सील किया था। हाजी इकरार हुसैन का कहना है कि चार दिन पहले रात में उसी बंद मकान से लोहे का कीमती सामान चोरी करने की सूचना मिली थी। उसने मौके पर पहुंचकर लोगों के सहयोग से दो युवकों को लोहे का सामान चोरी करते हुए पकड़कर पुलिस को सौंप दिया था। इससे पहले भी कई बार आरोपित अपने अन्य साथियों के साथ चोरी कर चुके हैं। इसके बावजूद पुलिस ने इस मामले में अभी तक रिपाेर्ट दर्ज नहीं की है। हाजी इकरार हुसैन ने पुलिस चौकी इंचार्ज दढ़ियाल व कोतवाली इंचार्ज टांडा को तहरीर देकर शीघ्र कार्रवाई की मांग की है। इकरार हुसैन का कहना है कि प्रशासन द्वारा मकान सील करने के बावजूद पुलिस चोरी की घटना काे गंभीरता से नहीं ले रही है। 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.