मुरादाबाद के निजी अस्पताल में लगी आग, डाक्टरों और स्टाफ ने 25 मरीजों की बचाई जान, जानें कैसे लगी आग, कितना हुआ नुकसान

Fire in Moradabad Private Hospital गलशहीद थाना क्षेत्र में गांधी नगर कालोनी में स्थित जिज्ञासा नर्सिंग होम में मंगलवार सुबह शार्ट सर्किट होने से आग लग गई। आग लगते ही अस्पताल में हड़कंप मच गया। अस्पताल में भर्ती मरीज और तीमारदारों में चीख पुकार मच गई।

Samanvay PandeyTue, 07 Dec 2021 10:59 AM (IST)
मुरादाबाद के जिज्ञासा नर्सिंग होम में आग लगने के बाद उठतीं लपटें।

मुरादाबाद, जेएनएन। Fire in Moradabad Private Hospital : गलशहीद थाना क्षेत्र में गांधी नगर कालोनी में स्थित जिज्ञासा नर्सिंग होम में मंगलवार सुबह शार्ट सर्किट होने से आग लग गई। आग लगते ही अस्पताल में हड़कंप मच गया। अस्पताल में भर्ती मरीज और तीमारदारों में चीख पुकार मच गई। धुआं उठते देख अस्पताल के डॉक्टरों और स्टाफ ने तत्काल 25 मरीजों को दूसरे अस्पताल में शिफ्ट कर दिया। जानकारी मिलते ही पहुंची दमकल विभाग की टीम ने करीब एक घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पा लिया गया। आग से केवल अस्पताल को नुकसान हुआ है।

मुरादाबाद शहर के गलशहीद थाना क्षेत्र के गांधीनगर में डॉ. सीपी सिंह का जिज्ञासा नाम से तीन मंजिला नर्सिंग होम है। मंगलवार तड़के करीब चार बजे नर्सिंग होम में आग लग गई। तीन मंजिला अस्पताल के प्रथम तल पर बिजली के बोर्ड में शॉर्ट सर्किट होने से आग लगने की बात सामने आई है। कुछ ही देर में तेजी के साथ आग की लपटें निकलने लगीं और पूरे अस्पताल को अपनी चपेट में ले लिया। यह देख अस्पताल में मौजूद स्टाफ और तीमारदारों के होश उड़ गए।अस्पताल में अफरा तफरी का माहौल हो गया। जिसको जहां से रास्ता मिला वह उसी तरफ से अपनी जान बचाने के लिए भागा।

इस बीच जानकारी मिलते ही फायर ब्रिगेड की टीम मौके पर पहुंची और अस्पताल में फंसे मरीजों और तीमारदारों को सुरक्षित बाहर निकाला। मौके पर चार फायर ब्रिगेड की गाड़ी पहुंंची। जिन्होंने करीब एक घंटे में आग पर काबू पा लिया। गलशहीद थाना प्रभारी लोकेंद्र कुमार त्यागी ने बताया कि आग से कोई हताहत नहीं हुआ।घटना के समय अस्पताल में 25 मरीज भर्ती थे, जिन्हें सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया। प्रथमदृष्टया आग लगने का कारण शार्ट सार्किट सामने आया है। मामले की जांच की जा रही है।घटना में कोई भी हताहत नहीं हुआ है। सिर्फ अस्पताल भवन को नुकसान पहुंचा है। अस्पताल को हुए नुकसान का आकलन किया जा रहा है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.