आठ महीने बाद वीजा हुआ अनलॉक तो निर्यातकों के चेहरे खिले

आठ महीने बाद वीजा हुआ अनलॉक तो निर्यातकों के चेहरे खिले
Publish Date:Fri, 30 Oct 2020 04:59 PM (IST) Author: Abhishek Pandey

सम्भल, जेएनएन। कोरोना काल के बाद वर्ष 2021 में पहले ट्रेड फेयर की एक बड़ी अड़चन खत्म हो गई है। सरकार ने विदेशी नागरिकों व कारोबारियों के लिए वीजा जारी करने की प्रक्रिया को अनलॉक कर दिया है। आठ महीने बाद वीजा दिए जाने की अनुमति मिली तो देश के निर्यातकों के साथ कारीगरों के चेहरे खिल गए हैं। खास तौर पर एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसलिंंग फॉर हैंडीक्राफ्ट (ईपीसीएच) के अधिकारियों को भी फेयर के ऐतिहासिक होने की उम्मीद लगने लगी है। अब वर्ष 2021 के माह मार्च में होने वाले स्प्रिंग फेयर की चमक को बढ़ाने के लिए ईपीसीएच और निर्यातक जुट गए हैं। ईपीसीएच अगले साल स्प्रिंग फेयर को एक महीने पहले ही कराने जा रहा है। जो फेयर अप्रैल में होता था अब उसका आयोजन मार्च में किया जाना तय किया गया है। इस फेयर के लिए 13 से 17 मार्च की तिथि भी तय कर ली गई है। गर्व की बात तो यह है कि जब कोरोना काल में दुनिया के बड़े देश फेयर को लेकर असमंजस में हैं और लगातार इनके आयोजन को स्थगित कर रहे है। तब ईपीसीएच की ओर से कदम बढ़ाया गया और हिम्मत दिखाते हुए निर्यातकों का मनोबल बढ़ाया। वर्ष 2021 में सबसे पहले फेयर आयोजित करने वाले देश के सामने विदेशी कारोबारियों के देश में आने को लेकर चिंंता बनी हुई थी। वही सरकार की ओर से संक्रमण की रोकथाम के लिए फ्लाइटों पर रोक लगा दी गई थी, ऐसे में यात्रियों को वीजा भी नहीं दिया जा रहा था, लेकिन अब संक्रमण कुछ कम हुआ तो कारोबार को गति देने के लिए वीजा की प्रक्रिया दोबारा शुरू कर दी गई।

अमेरिका के वायरस पर नजर

देश का सबसे ज्यादा फोकस जापान और अमेरिका के वायरस पर रहता है। पर एक चिंंता ने निर्यातकों और ईपीसीएच के अधिकारियों को परेशान कर दिया है। दरअसल जापान में दोबारा कोरोना संक्रमण के बढऩे लगा है। ऐसी वजह से चिन्ता की स्थिति पैदा हुई है। अधिकारी ने बताया कि जापान में संक्रमण खत्म हो जाए तो वहां के कारोबारी देश आ सकेंगे।

कहीं सर्दी में फिर पंख ना चला दे संक्रमण

जापान जैसे कुछ देशों में कोविड-19 दुबारा फैलने के कारण निर्यातकों को देश में भी इस तरह की घटना होने का डर सता रहा है। लोगों का कहना है कि संक्रमण के मामले घटे हैं यह अच्छी खबर है बस सर्दी में यह दोबारा पंख फैला दें इसके लिए सरकार को कुछ ठोस कदम उठाने चाहिए।

किसने क्या कहा

वीजा मिलने से विदेशी खरीदारों के देश में आने का रास्ता साफ हो गया है। भारत में कोरोना का संक्रमण भी कम हो गया है। उम्मीद हैं कि वह जल्द ही यह वायरस पूरी तरह से यह खत्म हो जाएगा। वही वीजा मिलने से फेयर से ज्यादा निर्यातक जुड़ेंगे।

राकेश कुमार, महानिदेशक ईपीसीएच

निर्यातकों के लिए वीजा पर से रोक हटा दिए जाने से फेयर को बढ़ावा मिलेगा। क्योंकि रोक हटने के बाद से अधिक से अधिक विदेशी वायर्स इसमें शामिल होने के लिए आएंगे। जोकि फेयर के लि बहुत जरूरी था।

कमल सोनी, उपाध्यक्ष ईपीसीएच

स्प्रिंग फेयर में शामिल होने के लिए निर्यातकों के स्टॉल भी अब बढ़ सकेंगे। निर्यातकों को लग रहा था कि खरीदार कम आएंगे तो स्टॉल में किया गया खर्च जाया ना हो जाए। पर अब जब बीजा अनुमति दे दी गई है और देश से कोरोना कम होने लगा तो अच्छे कारोबार की उम्मीद में निर्यातक इसमें हिस्सा बनाने के लिए तैयारी में जुट गए हैं।

ताहिर सलामी,निर्यातक,अध्यक्ष हैंडीक्राफ्ट एसोसिएशन सम्भल

वीजा अनलॉक होने से अप्रैल के महीने में लगने वाली फेयर में विदेशी खरीदारों के आने की उम्मीद हैं। इससे लोगो को ऑर्डर मिलेंगे तो करोबार बढ़ेगा। इसलिए निर्यातक नये नये डिजाइन के आइटम बनाने में जुट गये हैं, जिससे कि फेयर की तैयारी हो सके।

कमल कौशल, निर्यातक  

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.