मुरादाबाद में आज 11 बजे खुलेगा ईवीएम का गोदाम, प्रशासन ने सियासी दलों को भेजा बुलावा

तहसील सदर कांठ रोड स्थित ईवीएम गोदाम को आज सुबह 11 बजे खोला जाएगा। कार्य की समाप्ति तक प्रतिदिन 11 बजे खोला जाना है और शाम पांच बजे बंद किया जाएगा। मान्यता प्राप्त राजनीतिक दलों को बुलावा भेजा गया है।

Narendra KumarTue, 27 Jul 2021 08:08 AM (IST)
ईवीएम गोदाम को खोलने एवं बंद करते समय वे गोदाम में आ सकते हैं।

मुरादाबाद, जागरण संवाददाता। तहसील सदर कांठ रोड स्थित ईवीएम गोदाम को आज सुबह 11 बजे खोला जाएगा। कार्य की समाप्ति तक प्रतिदिन 11 बजे खोला जाना है और शाम पांच बजे बंद किया जाएगा। मान्यता प्राप्त राजनीतिक दलों को बुलावा भेजा गया है। अपेक्षा की है कि ईवीएम गोदाम को खोलने एवं बंद करते समय वे गोदाम में आ सकते हैं।

अपर जिलाधिकारी प्रशासन एवं उप जिला निर्वाचन अधिकारी सुरेंद्र सिंह ने जिले में एफएलसी एवं अन्य प्रयोजनों के बाद रिजेक्टेड व डिफेक्टिव पाई गई वीवीपैट को निर्माता फर्म बीईएल, बैंगलौर एवं ईसीआईएल फैक्ट्री हैदराबाद को भेजे जाने के संबंध में समस्त अध्यक्ष एवं मंत्री, मान्यता प्राप्त राजनीतिक दलों को अवगत कराया है। बताया है कि जनपद में एफएलसी तथा विविध प्रयोजनों के बाद डिफेक्टिव पाई गयी एम-तीन माडल की मशीनों को ईएमएस पर संबंधित निर्माता फर्म को भेजे जाने के प्रविष्टि दर्ज करेंगे। जनपद (सेंटर जिला) को भौतिक रुप से निर्माता फर्म को भिजवाने के लिए उपलब्ध कराएंगे।

जिला स्तरीय उद्योग बंधु की बैठक 28 जुलाई को : जिला स्तरीय उद्योग बंधु की बैठक जिलाधिकारी की अध्यक्षता में 28 जुलाई को सर्किट हाउस मुरादाबाद में शाम चार  बजे होगी। उपायुक्त उद्योग ने बताया क‍ि इसमें जनपद के सभी निर्यातकों एवं औद्योगिक इकाईयों और संगठनों को शामिल होना है। किसी भी निर्यातक, औद्योगिक इकाई या उद्यमी की कोई समस्या उसका पूर्ण विवरण जिला उद्योग एवं उद्यम प्रोत्साहन केंद्र मुरादाबाद को उपलब्ध करा दिया जाये। साथ ही यदि कोई व्यक्ति, नीतिगत एवं कानून, सुरक्षा संबंधी कोई समस्या है तो उसका भी पूर्ण विवरण उपलब्ध करा दिया जाए ताकि समस्या के निदान के लिए बैठक में विचार विमर्श किया जा सके।

शाहजहांपुर से आए डीडीओ ने कार्यभार संभाला : शाहजहांपुर से तबादला होकर आए जिला विकास अधिकारी गोविंद वल्लभ पाठक ने सोमवार को कार्यभार ग्रहण कर लिया। उन्होंने कहा कि अब लंबित कार्यों को जल्द पूरा कराने के लिए काम होगा। मनरेगा के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में अच्छे काम कराने हैं। राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत भी महिलाओं को राेजगार से जोड़कर सशक्त बनाना है। विकास खंडों में तैनात ग्राम विकास अधिकारियों को भी बुलाकर उनसे बात करेंगे। किसी भी स्तर पर लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.