Dengue Malaria in Moradabad : मुरादाबाद में डेंगू के छह, मलेरिया के तीन नए मरीज मिले, जानें जिले में अब कितने हो गए मरीज

Dengue Malaria in Moradabad डेंगू मलेरिया और टाइफाइड के मरीजों की संख्या बढ़ रही हैं। मंगलवार को शहरी क्षेत्र में छह डेंगू के मरीज और तीन मलेरिया के मरीजों की पुष्टि होने से खलबली मच गई है। टीमों को 131 तो निजी अस्पतालों में 342 बुखार के मरीजों पहुंचे।

Samanvay PandeyWed, 15 Sep 2021 03:55 PM (IST)
घनी आबादी वाले क्षेत्रों में डेंगू, मलेरिया के बढ़ रहे मरीज।

मुरादाबाद, जेएनएन। Dengue Malaria in Moradabad : डेंगू, मलेरिया और टाइफाइड के मरीजों की संख्या बढ़ रही हैं। मंगलवार को शहरी क्षेत्र में छह डेंगू के मरीज और तीन मलेरिया के मरीजों की पुष्टि होने से खलबली मच गई है। सरकारी टीमों को 131 तो निजी अस्पतालों में 342 बुखार के मरीजों पहुंचे। डेंगू, मलेरिया के मरीज मिलने से क्षेत्रों में खलबली मची हुई है। डेंगू, मलेरिया को लेकर हालात खराब होते जा रहे हैं।

हालात ये हैं कि अब दो दिन से लगातार छह-छह डेंगू के मरीज निकल रहे हैं। इसमें प्रीत विहार कालोनी, सम्राट अशोक नगर, आशियाना कालोनी प्रथम, चौधरपुर, नूरपुर, अमरोहा का मरीज डेंगू पीड़ित निकला है। पीटीसी, होली का मैदान लाइनपार, मिलन विहार में मलेरिया के मरीज की पुष्टि हुई है। इसके बाद इन सभी स्थानों पर स्वास्थ्य विभाग की टीमें पहुंची हैं। 1492 टीमों ने 76460 मकानों पर दस्तक दी।

कोरोना से बचाव के टीके से 1763 गर्भवती महिलाएं छूटी हैं। 5993 बच्चे टीके से छूटे हैं। नौ लोग टीबी से संक्रमित हुए हैं। 45 प्लस में 15451 लोगों को प्रथम डोज भी नहीं लगी है। निजी अस्पतालों में 4616 लोगों के परीक्षण में 342 बुखार के मरीज मिले हैं। इसमें सात मरीज सर्दी-खांसी के मिले हैं। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. एमसी गर्ग ने बताया कि डेंगू और मलेरिया के मरीजों को उपचार दिया जा रहा है।

इस नंबर पर करें संपर्कः डेंगू, मलेरिया, टाइफाइड की दिक्कत है तो आप 0591-2411224 पर कंट्रोल रूम के नंबर पर सूचना दें। स्वास्थ्य विभाग की टीम सूचना मिलने के फौरन बाद आपसे संपर्क करेगी।

मरीज ने की खून की उल्टी : मंगलवार शाम पांच बजे जिला अस्पताल में गंभीर हालत में मरीज को भर्ती कराया गया। उसके शरीर का आक्सीजन 40-45 था। सोमवार को उसे खून की उल्टियां हुई थीं। इमरजेंसी में फौरन ही मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. एमसी गर्ग, प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक डा. शिव सिंह, चिकित्सा अधीक्षक डा. राजेंद्र कुमार, वरिष्ठ चेस्ट फिजिशियन डा. प्रवीण शाह, एनेस्थेटिस्ट डा. प्रवीण कुमार के अलावा अन्य स्टाफ भी पहुंच गया। मरीज की गंभीर स्थिति देखते हुए फौरन ही निजी मेडिकल कालेज के लिए रेफर कर दिया गया।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.