द‍िल्‍ली की मह‍िला ने फर्जी फर्म बनाकर लगाया एक करोड़ 67 लाख रुपये का चूना, पुलिस ने दर्ज क‍िया मुकदमा

Action in GST evasion in Moradabad दिल्ली निवासी महिला ने फर्जी तरीके से फर्म रजिस्टर्ड कराकर करीब दस करोड़ रुपये का कारोबार दिखाया। आरोप है कि इस टर्नओवर को दिखाकर कंपनी ने एक करोड़ 67 लाख रुपये की जीएसटी की चोरी की है।

Narendra KumarSat, 19 Jun 2021 10:47 AM (IST)
दिल्ली की महिला के नाम पर मुरादाबाद में कराया गया पंजीकरण।

मुरादाबाद, जेएनएन। दिल्ली निवासी महिला ने फर्जी तरीके से फर्म रजिस्टर्ड कराकर करीब दस करोड़ रुपये का कारोबार दिखाया। आरोप है कि इस टर्नओवर को दिखाकर कंपनी ने एक करोड़ 67 लाख रुपये की जीएसटी की चोरी की है। इस मामले में वाणिज्य कर अधिकारी की तहरीर पर भोजपुर थाना पुलिस ने दिल्ली की करोल बाग निवासी महिला और उसकी फर्म के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

मुरादाबाद के वाणिज्य कर अधिकारी (विशेष अनुसंधान शाखा) दीपक मेहरोत्रा की तहरीर के अनुसार जीएसटी कॉन पोर्टल पर जीएस इंटरनेशनल मुहल्ला नवाबपुर वाटर टैंक रेलवे स्टेशन रोड भोजपुर का पता दिखाकर फर्म का पंजीकरण कराया था। पोर्टल पर उपलब्ध कराई गई जानकारी के बाद जांच शुरू की गई। पता चला कि फर्म स्वामिनी दिल्ली के करोल बाग गली नंबर 18 निवासी पूनम के नाम पर जीएस इंटरनेशनल फर्म ने 10 सितंबर 2019 को जीएसटीएन पंजीकरण कराया था। इस फर्म को आयरन एंड स्टील की खरीद-बिक्री के कारोबार के लिए पंजीकृत कराया था। वाणिज्य कर अधिकारी ने पुलिस को दी गई तहरीर में बताया कि जब मौके पर जाकर जांच की गई तो वहां के लोगों ने बताया कि यहां जीएस इंटरनेशनल नाम की कोई फर्म संचालित ही नहीं होती है। दिए गए पते पर कोई व्यापार नहीं होता। जिस जगह का पता दिया गया था वहां मौजूदा समय में ट्रक या डीसीएम के आने-जाने के लिए रास्ता भी नहीं है। पोर्टल पर फर्म स्वामिनी पूनम ने जो किरायानामा लगाया था, उसके अनुसार इस जमीन को अलीगढ़ के अजीबाबाद थाना क्षेत्र के जहानागंज निवासी हरेंद्र से किराये पर लिया गया था। जांच के दौरान यह भी पता चला कि हरेंद्र नाम के किसी भी व्यक्ति का कोई भवन ही नहीं है। वाणिज्यकर अधिकारी ने जब उस क्षेत्र के लोगों को फर्म स्वामिनी का फोटो दिखाया तो सभी ने पहचानने से इन्कार कर दिया। इतना नहीं पोर्टल में जो फोन नंबर दिया गया था उस पर कॉल करने पर रिसीव नहीं हुआ। जिसके बाद जांच टीम ने बीते नौ जून को इसकी जांच रिपोर्ट उच्चाधिकारियों को सौंप दी थी। वाणिज्य कर अधिकारी ने बताया कि फर्म स्वामिनी ने फर्जीवाड़ा करके केंद्र और राज्य सरकार से कर चोरी की है। फर्म ने नौ करोड़ 93 लाख 83 हजार 706 रुपये का टर्नओवर दिखाया है। टर्नओवर के हिसाब से एक करोड़ 67 लाख 77 हजार 904 रुपये वाणिज्य कर चोरी की गई है। इस संबंध में भोजपुर थाना प्रभारी मनोज कुमार सिंह ने बताया कि तहरीर के आधार पर आरोपित फर्म जीएस इंटरनेशनल और फर्म स्वामिनी पूनम के खिलाफ धोखाधड़ी और कूट रचित दस्तावेज तैयार करने का मुकदमा दर्ज किया गया है। जांच में जो भी साक्ष्य व तथ्य मिलेंगे उसके अनुसार आगे की कार्रवाई की जाएगी।

​​​​​यह भी पढ़ें :-

UP Police : पुलिस व‍िभाग में बड़ा फर्जीवाड़ा, मुरादाबाद में पांच साल से जीजा की जगह साला कर रहा था नौकरी

Fraud in UP Police : आठ हजार रुपये प्रतिमाह देकर साले को बनाया था फर्जी पुलिस कर्मी, सेल्यूट और सलामी का दिया था प्रशिक्षण

Fraud in UP Police : एक तस्‍वीर ने खोल दी जीजा और साले के फर्जीवाड़े की पोल, सात सौ स‍िपाह‍ियों का चेक क‍िया जा रहा डाटा

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.