Cyber Crime : लोगों के ल‍िए मददगार साबित हो रही साइबर हेल्पलाइन, वापस कराए 23 हजार रुपये

Cyber Crime वर्तमान में साइबर ठगी की घटनाओं में वृद्धि हो रही है तो यूपी पुलिस की ओर से साइबर सेल के लिए जारी किए गए हेल्पलाइन नंबर मददगार साबित हो रहे हैं। जिले की पुलिस के द्वारा ऐसे लोगों की रकम वापस कराई जा रही है।

Narendra KumarSat, 25 Sep 2021 03:44 PM (IST)
24 घंटे के अंदर शिकायत करने पर वापस हो रही ठगी की रकम।

मुरादाबाद, संवाद सहयोगी। सम्‍भल में वर्तमान में साइबर ठगी की घटनाओं में वृद्धि हो रही है तो यूपी पुलिस की ओर से साइबर सेल के लिए जारी किए गए हेल्पलाइन नंबर मददगार साबित हो रहे हैं। जिले की पुलिस के द्वारा ऐसे लोगों की रकम वापस कराई जा रही है। 24 घंटे के अंदर साइबर सेल में हेल्पलाइन नंबर 155260 पर शिकायत की जा रही है।

24 सितंबर को साइबर पुलिस की ओर से चंदौसी के संजीव कुमार के साथ हुई ठगी के 23 हजार रुपये वापस कराए गए। जिनसे साइबर अपराधियों के द्वारा गूगल पे का एक लिंक भेज के रुपये ट्रांसफर कराए गए थे। जिन्होंने 24 घंटे के अंदर ही साइबर सेल के हेल्पलाइन नंबर पर शिकायत की और उन्हें उनकी धनराशि साइबर अपराधियों के खाते में जाने से बचा लिया। इसके अलावा डिजिटल प्लेटफार्म ओएलएक्स पर मोबाइल खरीदने के बहाने 18 हजार की ठगी का शिकार होने वाले बहजोई के अशफाक की भी धनराशि 13 सितंबर को वापस कराई गई जबकि साइबर सेल के माध्यम से ही चंदौसी की मुदित गर्ग के 3200 रुपये वापस कराए गए। जिन्हें आनलाइन शापिंग के दौरान ठगी का शिकार होना पड़ा था। फिलहाल साइबर सेल केवल उन्हीं लोगों की मदद कर पा रहा है जो आनलाइन ठगी होने के 24 घंटे के अंदर पुलिस के हेल्पलाइन नंबर पर शिकायत कर रहे हैं, जिनके 24 घंटे बीत जाते हैं उनके धनराशि अपराधियों के खाते में चली जाती है और उसके बाद उसे वापस लाना मुश्किल हो जाता है। जिसमें न तो बैंक मदद कर पाती है और न ही कोई अन्य तकनीकी मदद मिल पा रही है। लिहाजा पुलिस के द्वारा भी लोगों को साइबर ठगी से बचने के लिए जागरूक किया जा रहा है।

साइबर सेल की मदद से ऐसे लोगों की धनराशि वापस कराई जा रही है जो आनलाइन ठगी के शिकार हुए और जिन्होंने 24 घंटे के अंदर साइबर सेल के हेल्पलाइन नंबर पर शिकायत की हालांकि 24 घंटे बीत जाने के बाद के मामलों में धनराशि वापस आना बड़ा मुश्किल हो रहा है। जिसके चलते लोगों को इसके प्रति जागरूक किया जा रहा है।

- चक्रेश मिश्र, पुलिस अधीक्षक, सम्भल।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.