मुरादाबाद में गुलाब जल बनाने वाली फैक्ट्री का ब्वाॅयलर फटा, दो मजदूर झुलसे

मुरादाबाद में गुलाब जल बनाने वाली फैक्ट्री का ब्वायलर फटा।
Publish Date:Sun, 27 Sep 2020 06:20 AM (IST) Author: Narendra Kumar

मुरादाबाद, जेएनएन। Accident in Gulab Jal factory।जिले के भगतपुर इलाके के चांदपुर में  शनिवार को चांदपुर गांव में तेज धमाके के साथ गुलाब जल बनाने वाली फैक्ट्री का ब्वाॅॅयलर फट गया। इसमें काम करने वाले दो मजदूर झुलस गए। गंभीर रूप से घायल मजदूरों में से एक की हालत नाजुक बनी हुई है। उसे इलाज के लिए दिल्ली रेफर किया है।

थाना भगतपुर क्षेत्र के ग्राम पंचायत चांदपुर निवासी इरशाद हुसैन एफक्यू फार्मेसी के नाम से अपने ही घर में गुलाब जल बनाने की फैक्ट्री चलाते हैं। शनिवार शाम करीब चार बजे फैक्ट्री में काम चल रहा था। इस दौरान ब्वाॅॅयलर तेज धमाके के साथ फट गया। धमाका इतना तेज था कि आसपास के मकानों की दीवारें दरक गईं। ब्वाॅॅयलर की चपेट में आने से फैक्ट्री में काम करने वाले अकील अहमद और शमी अख्तर गंभीर रूप से झुलस गए। ग्रामीणों की मदद से दोनों को जिला अस्पताल भेजा गया। वहां शमी अख्तर की हालत बिगड़ गई। इस पर चिकित्सकों ने उसे दिल्ली रेफर कर दिया। घटना की सूचना पर थानाध्यक्ष भगतपुर धर्मेंद्र कुमार व फॉरेंसिक एक्सपर्ट की टीम मौके पर पहुंच गई। घटना से पूरे गांव में अफरा तफरी का माहौल था। 

केमिकल को जांच के लिए फोरेंसिक लैब भेज दिया गया है। थानाध्यक्ष धर्मेंद्र कुमार ने बताया कि घटना की जांच हो रही है। फैक्ट्री को सील कर दिया है। संचालक के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।धमाके से कांप गए गांव के मासूमगुलाब जल फैक्ट्री में तेज धमाके के साथ ब्वायलर फटने से गांव के मासूम बच्चे कांप गए। इरशाद के आसपास के घरों में रहने वाले बच्चे को कई घंटे तक घरों में कैद रहे। जिन आसपास के घरों की दीवारें दरकी हैं, वह भी दहशत हैं। पुलिस ने ग्रामीणों को भरोसा दिलाया है कि फैक्ट्री के मानकों की जांच होने के बाद ही यहां आगे काम हो पाएगा। प्रशासन को भी इस फैक्ट्री के संबंध में रिपोर्ट भेजी जा रही है। यह भी देखा जा रहा है कि यहां हादसे से निपटने के लिए व्यवस्थाएं क्या थीं। सवाल यह भी है कि आबादी में केमिकल का इस्तेमाल करके फैक्ट्री किसकी अनुमति से चल रही थी। इससे फैक्ट्री संचालक पर भी आंच आने की आशंका है।

जांच खोलेगी गुलाब जल का राज

फोरेंसिक टीम ने गुलाब जल की फैक्ट्री से कई सामान को कब्जे में ले लिया है। गुलाब जल बनाने के सभी केमिकल को जांच के लिए भेज दिया है। जांच रिपोर्ट आने के बाद ही यह मालूम होगा कि किस कैमिकल से गुलाब जल बनाया जा रहा था।

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.