स्‍वास्‍थ्‍य व‍िभाग का बड़ा कदम, अब गांव के अस्‍पतालोंं में हो सकेगा गंभीर रोगियों का इलाज, क‍िए जाएंगे ये कार्य

Serious patients Treatment in village hospitals तीन माह में भवन का निर्माण किया जाता है। प्री-फैब से भवन बनाने पर गर्मी में भवन के अंदर ठंडक और ठंड के समय गर्मी रहेगी। मिशन न‍िदेश अपर्णा उपाध्याय ने 30 नवंबर को पत्र जारी किया है।

Narendra KumarFri, 03 Dec 2021 05:15 PM (IST)
एनएचएम ने फंड के साथ निर्माण एजेंसी का किया चयन।

मुरादाबाद, जागरण संवाददाता। Serious patients Treatment in village hospitals : गांव में ही रोगियों को भर्ती कर इलाज कराने की सुविधा के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में बेड बढ़ाने की तैयारी है। तीन माह में निर्माण कार्य पूरा करने के लिए प्री-फैब मेटेरियल से निर्माण कराया जाएगा। मुरादाबाद जिले के चार ब्लाक में निर्माण कार्य कराया जाना है।

कोरोना संक्रमण बाद रोगियों के इलाज के साथ अस्पतालों में लगातार सुविधा बढ़ाई जा रही है। सीएचसी व पीएचसी पर आक्सीजन प्लांट, गहन चिकित्सा कक्ष स्थापित किया गया है। पीएचसी में चार बेड व सीएचसी पर अधिकतम 30 बेड की व्यवस्था होती है, इन अस्पतालों में बेड की संख्या के आधार पर रोगी को भर्ती कर इलाज किया जाता है। गंभीर रोगियों का इलाज गांव के अस्पताल में कराने की योजना तैयार की गई है। इसके लिए राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (एनएचएम) ने गांव के अस्पताल की क्षमता बढ़ाने का फैसला लिया है। अस्पताल में बेड की क्षमता बढ़ाने के लिए भवन की आवश्यकता होगी। कम समय में भवन का निर्माण करने के लिए प्री-फैब तकनीकी से निर्माण कराने का फैसला लिया है। इसके द्वारा तीन माह में भवन का निर्माण किया जाता है। प्री-फैब से भवन बनाने पर गर्मी में भवन के अंदर ठंडक और ठंड के समय गर्मी रहेगी। मिशन न‍िदेश अपर्णा उपाध्याय ने 30 नवंबर को पत्र जारी किया है। इसमें मुरादाबाद, बदायूं, बिजनौर, अमरोहा, सम्भल, बरेली, बदायूं, शाहजहांपुर व पीलीभीत जिले का चयन किया गया है। प्रथम चरण में मुरादाबाद, भोजपुर, डिलारी व बिलारी ब्लाक के अस्पतालों के बेड का विस्तार किया जाएगा। पीएचसी में छह बेड और सीएचसी में बीस बेड अतिरिक्त बढ़ाया जाना है। इसके लिए प्री-फैब मेटेरियल के द्वारा भवन बनाएगा। पीएचसी में भवन के निर्माण पर 9.68 लाख रुपये और सीएचसी में भवन निर्माण पर 32.23 लाख रुपये खर्च क‍िए जाएंगे। निर्माण एजेंसी उत्तर प्रदेश प्रोजेक्ट कारपोरेशन को नामित किया गया है। एजेंसी को निर्माण के लिए बजट आवंटित किया गया है। कारपोरेशन के दो अधिकारी मुख्य चिकित्साधिकारी से मिलने आए थे और शीघ्र निर्माण शुरू करने के लिए चर्चा की। मुख्य चिकित्साधिकारी डा. एमसी गर्ग ने बताया क‍ि सीएचसी व पीएचसी में बेड की संख्या के लिए राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन से बजट उपलब्ध कराया गया है। शीघ्र ही निर्माण कार्य शुरू किया जाएगा।

यह भी पढ़ें :-

सीबीआइ की कार्रवाई के बाद चर्चाओं में है मुरादाबाद का ये बैंक, रोजाना नए राज आ रहे सामने

Moradabad Weather : आज भी छाए रहेेंगे बादल, पांच और छह द‍िसंबर को भी हो सकती है बारिश

Congress Pratigya Rally : मुरादाबाद में प्रियंका वाड्रा ने बढ़ाया सियासी पारा, भाजपा-सपा-बसपा पर साधा न‍िशाना

National Pollution Control Day 2021 : इस साल प्रदूषण के स्‍तर में सुधार, फ‍िर भी बढ़ रहे दमा और कैंसर के रोगी

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.