Accident in Sambhal : तेज रफ्तार अनियंत्रित कार ने सड़क किनारे खड़े लोगों को मारी टक्कर, तीन की मौत, छह घायल

Accident in Sambhal : तेज रफ्तार अनियंत्रित कार ने सड़क किनारे खड़े लोगों को मारी टक्कर

Accident in Sambhal हयातनगर थाना क्षेत्र में तेज रफ्तार अनियंत्रित कार ने सड़क किनारे खड़ी बोलेरो में टक्कर मार दी जिसके बाद अनियंत्रित कार सड़क किनारे बैठे लोगों को कुचल दिया जिससे तीन लोगों की मौके पर ही मौत हो गई।

Ravi MishraFri, 14 May 2021 08:29 PM (IST)

मुरादाबाद, जेएनएन। Accident in Sambhal : हयातनगर थाना क्षेत्र में तेज रफ्तार अनियंत्रित कार ने सड़क किनारे खड़ी बोलेरो में टक्कर मार दी, जिसके बाद अनियंत्रित कार सड़क किनारे बैठे लोगों को कुचल दिया, जिससे तीन लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि छह लोग घायल हो गए। हादसे के बाद ग्रामीणों ने जाम लगा दिया। वही सूचना मिलने पर एसडीएम व सीओ भी चार थानों की पुलिस के साथ मौके पर पहुंच गए और ग्रामीणों को समझा बुझाकर शांत कराया। वही ग्रामीणों ने कर कार चालक को पकड़ लिया और उसकी धुनाई कर पुलिस को सौंपा दिया। इस दौरान कुछ ग्रामीणों की पुलिस से नोंक झोंक भी हुई।

थाना क्षेत्र के गांव रायपुर निवासी संतराम के बेटे विनोद की शादी सात मई को जनपद के गांव इसमपुर से हुई थी। ऐसे में घर में खुशी का माहौल था। शुक्रवार को विनोद के ससुराली जन उसकी बहू की विदा कराने के लिए आये थे। संतराम का घर सम्भल गवां रोड पर सड़क किनारे है। इस कारण कुछ रिश्तेदार व अन्य लोग वहां एक पेड़ के नीचे बैठकर बाते कर रहे थे, जिसमें से कुछ चारपाई पर बैठे थे तो कुछ उसके आसपास खड़े थे। वही पास में विदा कराने आये रिश्तेदारों की बोलेरो भी खड़ी थी।

ग्रामीणों ने बताया कि इसी बीच सम्भल की ओर से जा रही एक तेज रफ्तार कार अनियंत्रित होकर वहां खड़ी बोलेरों से टकरा गई। उन्होंने बताया कि कार बोलेरो से टकराकर वापस सम्भल की ओर मुड़ गई और वहां पेड के नीचे खड़े लोगों को टक्कर मार दी। हादसे को देख वहां खड़े लोगों में खलबली के साथ चीख पुकार मच गई। कुछ ही देर में मौके पर काफी संख्या में लोग एकत्र हो गए, जिन्होंने घायलों को कार के नीचे से बाहर निकाला, लेकिन तब तक तीन लोगों की मौत हो चुकी थी और करीब छह लोग घायल थे।

गुस्साए ग्रामीणों ने कार चालक को पकड़ लिया और उसकी धुनाई करना शुरू कर दिया। वही हादसे की सूचना मिलने पर थाना पुलिस मौके पहुंच गई, लेकिन तब तक ग्रामीणाें ने सम्भल गवां रोड पर जाम लगा दिया। वही हादसे में तीन लोगों की मौत व जाम की सूचना मिलने पर एसडीएम दीपेंद्र यादव व सीओ अरुण कुमार सिंह सम्भल, नखासा, रजपुरा व असमोली थाना पुलिस के साथ मौके पर पहुंच गए। जहां पर उन्होंने ग्रामीणों को समझाने का प्रयास किया। इस दौरान पुलिस की ग्रामीणों से नोंकझोंक भी हुई। अधिकारियों द्वारा समझाने पर ग्रामीण शांत हुए और जाम खोल दिया।

पुलिस ने मृतक रिंकू (19) पुत्र संतराम, कल्लू (70) पुत्र लीलाधर, रामौतार (62) पुत्र ईश्वरी के शव को कब्जे में लेकर कार्रवाई शुरू कर दी। वही घायल अवस्था में गांव निवासी रामभरोसे, अमरपाल, देवेंद्र व अरविंद को स्वजनों ने उपचार के लिए नगर के निजी चिकित्सालय में भर्ती कराया।

बेटे की मौत ने मातम में बदली शादी की खुशियां

सम्भल: गांव निवासी संतराम के बड़े बेटे विनोद की शादी सात मई को हुई थी। ऐसे में घर में सभी बहू के आने की खुशियां मना रहे थे। वही शुक्रवार को बहू के मायके वाले भी विदा कराने के लिए उसकी ससुराल में आये थे। घर में मेहमानों को चाय नाश्ते के खाने पीने की तैयारी चल रही थी। वही नव विवाहिता भी मायके जाने की खुशी में अपना सामान लगा रही थी।

ऐसे में सभी खुश थे, लेकिन उन्हें क्या पता था कि कुछ ही देर में यह खुशियां काफूर हो जाएगी। क्योंकि हादसे में संतराम के बेटे व विनोद के छोटे भाई रिंकू की मौत हो गई थी। बेटे की मौत के बाद घर में सभी का रो रोकर बुरा हाल था। वही गांव में एक साथ तीन मौत से मातम छा गया। चारों ओर से चीख चीत्कार सुनाई दे रही थी।

हादसे में तीन लोगाें की मौत के साथ कुछ लोग घायल हो गए थे। शवों को कब्जे में लेकर कार्रवाई की जा रही है। घायलों को उपचार के लिए स्वजनों ने निजी अस्पताल में भर्ती कराया है। अरुण कुमार सिंह, सीओ सम्भल

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.