बस्ती के लोगों ने टीका लगाने से किया इंकार, मचा हड़कंप

जागरण संवाददाता, मीरजापुर : देहात कोतवाली के शाहपुर नटान बस्ती के लोगों ने शनिवार को मिशन इंद्रधनुष के तहत लगाए जा रहे टीके को अपने बच्चों को लगवाने से इंकार कर दिया। कहा कि वह किसी भी दशा में टीका लगाने नहीं देंगे। इसकी खबर लगते ही स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया। कहा कि इसके लगाने से उनको नुकसान हो सकता है इसलिए वे लोग अपने बच्चों को टीका नहीं लगाने देंगे। जानकारी होते ही सीएमओ डा. ओपी तिवारी मौके पर पहुंचे और ग्रामीणों की मदद से लोगों को समझा बुझाया तब लगभग 15 बच्चों को टीका लगवाया। जबकि दस बच्चे टीका लगवाने से वंचित रह गए। जिन्हें बाद में लगाने की बात कही गई।

इन दिनों सघन मिशन इंद्रधनुष दो अभियान के तहत जिले भर में ईंट, भट्ठे, नटान व मलिन बस्ती के बच्चों को जान जानलेवा बीमारी से वाने वाले टीके लगाए जा रहे हैं। इसी के तहत बरकछा न्यू पीएचसी की टीम बच्चों को टीका लगाने के लिए सिटी ब्लाक के शाहपुर के नटान बस्ती में गई थी। बच्चों को टीका लगाने के लिए बुलाया गया तो बस्ती के लेागों ने सामूहिक रूप से टीका लगवाने से इंकार कर दिया। कहा कि टीका लगाने से उनके बच्चों को नुकसान होगा। इसलिए वह टीका नहीं लगवाएंगे। लोगों द्वारा टीका लगाने का विरोध जताने पर टीम ने मामले से सीएमओ को अवगत कराया। जानकारी होने पर सीएमओ ओपी तिवारी, प्रभारी चिकित्साधिकारी गुरसंडी डा. प्रदीप व प्रभारी चिकित्साधिकारी बरकछा डा. विवेक खरे यूनिसेफ के अधिकारी गणेश पांडेय, पर्यवेक्षक सुजीत श्रीवास्तव के साथ मौके पर पहुंचे। वहां पर काफी समझाने बुझाने पर लोग टीका लगवाने के लिए तैयार हुए। इस दौरान रामप्रवेश यादव, एएनएम छाया सिंह, सुनीता यादव, आशा पुष्पा भारती, ममता वर्मा, प्रमीला मौर्या, फूल कुमारी आदि ने समझा बुझाकर टीका लगवाने के लिए राजी किया। इसमें प्रधान, पूर्व व ग्रामीणों का सहयोग रहा।

1952 से 2020 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.