दुकानदार व दर्शनार्थी के बीच हुई मारपीट, दस घायल

क्षेत्र के काशी नरेश बस स्टैंड में लकड़ी खरीदने को लेकर रविवार को दर्शनार्थियों व एक दुकानदार के बीच मारपीट हो गई। पथराव भी किया गया। इससे स्टैंड में अफरा तफरी मच गई। घटना में दस दर्शनार्थी घायल हो गए। घायलों का सीएचसी में इलाज कराया गया।

JagranSun, 05 Dec 2021 05:31 PM (IST)
दुकानदार व दर्शनार्थी के बीच हुई मारपीट, दस घायल

जागरण संवाददाता, विध्याचल (मीरजापुर) : क्षेत्र के काशी नरेश बस स्टैंड में लकड़ी खरीदने को लेकर रविवार को दर्शनार्थियों व एक दुकानदार के बीच मारपीट हो गई। पथराव भी किया गया। इससे स्टैंड में अफरा तफरी मच गई। घटना में दस दर्शनार्थी घायल हो गए। घायलों का सीएचसी में इलाज कराया गया। मौके पर पहुंची पुलिस ने मामला शांत कराया। घायल दशनार्थियों ने दुकानदार के खिलाफ तहरीर दी। पुलिस तहरीर के आधार पर मामला दर्ज कर रही है। विध्याचल निरीक्षक नीरज कुमार पाठक ने बताया कि घायल की तहरीर पर आरोपित पवन कुमार गुप्ता समेत अन्य के खिलाफ मारपीट समेत अन्य आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया है।

जौनपुर जनपद के केराकत थाना क्षेत्र स्थित गोला बाजार निवासी लक्ष्मी गुप्ता अपने स्वजन के साथ मां विध्यवासिनी का दर्शन पूजन करने के लिए विध्याचल आई थीं। दोपहर में सभी महिला काशी नरेश के बस स्टैंड में मां को चढ़ाने लिए गैस चूल्हे पर प्रसाद बना रही थीं जबकि पुरुष बैठे हुए थे। इसी बीच उनका चूल्हा बुझ गया और दोबारा नहीं जला। यह देख परिवार के विनय गुप्ता पास के एक दुकान पर लकड़ी खरीदने चले गए। दुकान पर रखी लकड़ी देख रहे थे कि दुकानदार अंदर से बाहर निकला और उनसे विवाद करने लगा।

विरोध करने पर दुकानदार ने अपने साथियों के साथ मिलकर महिलाओं और पुरुष दर्शनार्थियों को लाठी व राड से पीटना शुरू कर दिया। जब विनय गुप्ता के घर के लोग उनको बचाने पहुंचे तो उनपर पथराव कर दिया। इससे स्टैंड परिसर में हड़कंप मच गया। मारपीट की इस घटना में साक्षी गुप्ता (22), उनके पति विनय गुप्ता (26), लक्ष्मी गुप्ता (28), वीरेंद्र गुप्ता (50), सावित्री (27), शीला गुप्ता (50) सहित अन्य लोग घायल हो गए। घटना की सूचना देने के लिए कोतवाल के सीयूजी नंबर पर फोन किया गया, लेकिन वह स्वीच आफ बता रहा था। यह देख लोगों ने इसकी सूचना एएसपी सिटी संजय वर्मा को दी। उन्होंने विध्याचल पुलिस से कार्रवाई करने के लिए कहा। आए दिन विध्याचल में बढ़ रही अराजकता

विध्याचल में आए दिन अराजकता बढ़ती जा रही है। कभी पंडा किसी दर्शनार्थी को मारपीट कर घायल कर देते हैं तो कभी आपस में भिड़ जाते हैं। दुकानदार भी पीछे नहीं रहते हैं। वे भी मारपीट करते रहते हैं। इनकी बढ़ती अराजकता को देखते हुए दर्शनार्थियों ने इसे ट्रस्ट को सौंपने की मांग की जिससे इस अराजकता पर लगाम लग सके।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.