सरकार शिक्षक व कर्मचारी हित में बहाल करें पुरानी पेंशन

जागरण संवाददाता मीरजापुर उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ जनपद इकाई के तत्वावधान में ि

JagranSat, 25 Sep 2021 06:54 PM (IST)
सरकार शिक्षक व कर्मचारी हित में बहाल करें पुरानी पेंशन

जागरण संवाददाता, मीरजापुर :

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ जनपद इकाई के तत्वावधान में शिक्षकों ने शनिवार को मशाल जुलूस निकाला। जिलाध्यक्ष सत्यभूषण सिंह की अध्यक्षता में मशाल जुलूस नगर के एएस जुबिली इंटर कालेज से आरंभ होकर रमईपट्टी होते हुए जिला मुख्यालय पहुंचा। जिला प्रशासन को 18 सूत्री पत्रक सौंपकर पुरानी पेंशन बहाली और निश्शुल्क चिकित्सा सुविधा मुहैया कराने सहित समस्याओं के समाधान की मांग की।

मंडल अध्यक्ष केदारनाथ दुबे ने कहा कि केंद्रीय संगठन के निर्देश पर मशाल जुलूस निकालकर ध्यानाकर्षण कराया जा रहा है। वित्तविहीन विद्यालयों में कार्यरत शिक्षकों को समान कार्य समान वेतन के आधार पर सम्मानजनक वेतन दिया जाए। महंगाई भत्ते को पूर्ववत किया जाए। मंडलीय मंत्री गणेश प्रसाद ने कहा कि शिक्षकों के स्थानांतरण की नीति में आवश्यक संशोधन किया जाए, जिससे सुविधापूर्वक स्थानांतरण हो सके। जिला मंत्री बलवंत सिंह ने कहा कि विनियमितीकरण से वंचित तदर्थ शिक्षकों को विनियमित, चयन बोर्ड अधिनियम की धरा 21 यथावत, महिला शिक्षकों को अनुमन्य अवकाश की सुविधा प्रदान की जाए। कोषाध्यक्ष डा. धर्मराज सिंह ने वर्ष 2014 से बंद सामूहिक बीमा को पुन: आरंभ करने की मांग की। डा. रमाशंकर शुक्ला ने 22 मार्च 2016 को विनियमित शिक्षकों को पुरानी पेंशन योजना से लाभान्वित करने और प्रोन्नति वेतनमान से एमए की बाध्यता समाप्त करने की मांग की। शिक्षकों ने शिक्षकों पर एस्मा लगाकर उनके संवैधानिक अधिकारों के हनन पर तत्काल प्रभाव से रोक लगाने, वर्ष 2005 के पूर्व नियुक्त और विनियमित होने के पूर्व सेवानिवृत्त हो चुके शिक्षकों को पुरानी पेंशन लागू करते हुए अन्य सेवानैवृत्तिक लाभ का भुगतान करने की मांग की। एक अप्रैल 2005 के पूर्व चयनित कितु प्रशासनिक कारणों से कार्य भार ग्रहण नहीं कर सकते थे। ऐसे शिक्षकों को पुरानी पेंशन देने की मांग की। डा. शशिधर उपाध्याय, तेजई राम, अरविद दुबे, जीतेंद्र बहादुर सिंह, रमाकांत सिंह, कमलेश पांडेय, राधाकांत त्रिपाठी, राकेश यादव, लक्ष्मीकांत आदि रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.