top menutop menutop menu

सादगी के साथ मनाई गई ईद, घरों में अदा की नमाज

जागरण संवाददाता, मीरजापुर : वैश्विक महामारी कोरोना से बचाव के लिए जारी लॉकडाउन के बीच सोमवार को मुस्लिम समाज सादगी के साथ खुशियों का पर्व ईद-उल-फितर मनाया। पर्व को लेकर उत्साह से लबरेज युवा, बच्चे, बुजुर्ग सुबह से ही तैयार होकर अपने-अपने घरों में ईद की नमाज अदा की। इस दौरान शारीरिक दूरी का खास ध्यान रखा गया। सफेद नए कपड़े, सिर पर सजी टोपी और खुशबूदार इत्र की गमक ने माहौल को खास बना दिया। इस दौरान नमाजियों ने मुल्क की खुशहाली के लिए दुआ मांगी। साथ ही देश-प्रदेश के विकास, आपसी प्रेम और भाईचारा बने रहने व कोरोना वायरस के खात्मे की दुआ मांगी गई।

घर के बुर्जुगों की देखरेख में ईद की नमाज पूरे अकीदत और एहतराम के साथ पढ़ी गई। लोगों ने अल्लाह ताला से घर-परिवार में बरक्कत, समाज मुल्क में अमन चैन, खुशहाली और कोरोना से मुक्ति पाने के लिए दुआएं मांगी। नमाज अदा करने के बाद कोरोना संक्रमण की वजह से ज्यादातर लोग एक-दूसरे से गले मिलने से भी बचते रहे। लोग दूर से ही एक दूसरे को हाथ मिलाकर पर्व की बधाई देते देखे गए। ईद की नमाज मस्जिदों में चुनिदा मौलानाओं ने अदा की। पूर्वाह्न बाद लोगों ने लज्जतदार सेवइयों और अन्य व्यंजनों का आनंद उठाया। घर आने वाले मेहमानों की खातिरदारी की। देर रात तक सेवईं खाने और खिलाने का सिलसिला चलता रहा। लोगों ने सोशल मीडिया के जरिए एक-दूसरे को मुबारक दी। नगर के मुस्लिम बहुल क्षेत्र गोसाई पोखरा, गौरीयाना, रामबाग, तरकापुर, मकरीखोह, इमामबाड़ा में बेहद सादगी से ईद मनाई गई। पर्व को लेकर प्रशासन की ओर से पुख्ता इंतजाम किए गए थे।

सोशल मीडिया पर जश्न-ए-ईद की रही धूम

आमतौर पर हर साल ईद का चांद दिखने के बाद ईद मुबारक-ईद मुबारक.. की सदाएं गूंजती थीं लेकिन इस बार लॉकडाउन के चलते लोग सोशल मीडिया के जरिए रिश्तेदारों व दोस्तों को मुबारकबाद पेश किए। मुबारकबाद देने का सिलसिला सुबह से लेकर देर रात तक चलता रहा। खासकर युवाओं ने व्हाट्सएप, ट्विटर व फेसबुक से भी सगे संबंधियों एवं दोस्तों को ईद की बधाई दी। हर जुबां व सोशल मीडिया पर जश्न-ए-ईद की धूम रही। इस हसीन मौके पर मुल्क में अमन, शांति व कौम की तरक्की के लिए खास दुआएं की गई।

पुलिस रही मुस्तैद

नगर समेत जनपद के अधिकतर जगहों पर नमाज अल सुबह अदा की गई। मस्जिदों के आसपास पुलिस मुस्तैद दिखी जिससे अगर नमाज अदा करने के लिए लोग मस्जिद जाते हैं तो उन्हें रोका जा सके। पुलिस लगातार घूम-घूमकर लोगों से शारीरिक दूरी का पालन करने और मास्क लगाकर बाहर आने की अपील कर रही थी।

कोरोना के खात्मे को मांगी दुआ

ईद-उल-फितर पर्व पर मुस्लिम समुदाय के लोगों ने शारीरिक दूरी बनाकर नमाज अदा कर मुल्क में अमन और शांति के साथ कोरोना महामारी के खात्मे की दुआ मांगी। अधिकांश मुस्लिम समुदाय के लोगों ने घरों में ही ईद की नमाज अदा की। कोरोना के चलते पहली बार ईद पर लोग एक-दूसरे के गले नहीं मिल सके।

वीडियो कॉलिग से ईद की बधाई

जमुआ : क्षेत्र के जमुआ, आही, गोधना, मझवां, बजहां, जलालपुर आदि गांवों के मुस्लिम समुदाय ईद के पर्व को बड़े ही सादगी व सौहार्दपूर्ण तरीके से मनाया। कोरोना वायरस से बचाव के लिए जारी लॉकडाउन के चलते फोन से वीडियो कॉलिग के माध्यम से ज्यादातर लोगों ने अपने मित्रों को मुबारकबाद दी। मुस्लिम समाज के नवयुवकों ने जागरूकता दिखाते हुए वीडियो कॉलिग के माध्यम से ही अपने-अपने मित्रों व रिश्तेदारों को ईद की बधाई देने का निर्णय लिया। इस निर्णय से लोग काफी खुश दिखे और सराहना भी की। वीडियो कॉलिग से बधाई देने वालों में जियाउलहक, ईंददु हाशमी, इकलाख, मो. झिगाटु, समशेर अली, मो. अख्तर अली, मो. आजाद आदि रहे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.