मुजफ्फरनगर में स्वास्थ्य सेवा के लिए पीपीपी मॉडल पर होगा काम, निजी चिकित्सक से लिया जाएगा सहयोग

स्वास्थ्य विभाग लोगों को संस्था का बेहतर इलाज देने के लिए पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप (पीपीपी) माडल के तहत कार्य कराएगा। इसके लिए मुजफ्फरनगर मेडिकल कालेज के गायनिक विभाग के चिकित्सकों से सहयोग लिया जाएगा। इसके लिए मुजफ्फरनगर मेडिकल कालेज के गायनिक विभाग के चिकित्सकों से सहयोग लिया जाएगा।

Taruna TayalWed, 08 Dec 2021 04:48 PM (IST)
स्वास्थ्य सेवा के लिए पीपीपी मॉडल पर होगा काम।

मुजफ्फरनगर, जेएनएन। स्वास्थ्य विभाग लोगों को संस्था का बेहतर इलाज देने के लिए पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप (पीपीपी) माडल के तहत कार्य कराएगा। इसके लिए मुजफ्फरनगर मेडिकल कालेज के गायनिक विभाग के चिकित्सकों से सहयोग लिया जाएगा। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र खतौली के चिकित्सकों ने कस्बे के निजी चिकित्स से आम लोगों के इलाज के लिए अभियान से जुड़ने का आह्वान किया है।

प्रत्येक मंगलवार को होगा साझा उपचार

एमओआईसी डा. अवनीश कुमार ने बताया कि मुजफ्फरनगर मेडिकल कालेज के गायनिक चिकित्सक अपनी टीम के साथ उपचार करेंगी। इसके लिए प्रत्येक मंगलवार को बोपाड़ा और मंसूरपुर पीएचसी को चुना गया है। खतौली में भी इनकी टीम सुविधानुसार अपनी सेवा देंगी।

भंगेला में चालू होंगे प्रसव

डॉ मनीष कुमार ने बताया कि गांव भंगेला में भी प्रसव शुरू कराने के लिए स्वास्थ्य उप केंद्र पर व्यवस्थाएं पूर्ण की जा रही है। अगले सप्ताह से यहां ग्रामीणों को नार्मल प्रसव कराने में मदद मिलेगी।

 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.