जिस स्‍कूल से पढ़कर बनी एयरफोर्स ऑफिसर, गणतंत्र दिवस पर चीफ गेस्‍ट बनकर पहुंची तो झलक उठे आंसू Meerut News

गणतंत्र दिवस पर चीफ गेस्‍ट के रूप में एयर फोर्स ऑफिसर मीना अरोरा।

मेरठ के एक कालेज से पढ़ लिखकर एयर फोर्स ऑफिसर बनकर जब एक अधिकारी उसी स्‍कूल में गणतंत्र दिवस पर चीफ गेस्‍ट बनकर पहुंची तो उनके आंखों से खुशी के आंसू झलक उठे। उन्‍होंने लड़कियों को एयर फोर्स में आने को कहा।

Himanshu DwivediWed, 27 Jan 2021 08:14 AM (IST)

मेरठ, जेएनएन। किसी छात्र या छात्रा के लिए असली सफलता क्या होती है। जिस स्कूल या कालेज से पढ़ कर वह निकलीं अगर वहीं उसे चीफ गेस्ट के तौर पर बुलाया जाय। जिस गुरुजनों ने उसे पढ़ाया, वही उसके स्वागत में पलके बिछाए। फिर उस स्टूडेंट को गर्व तो होगा ही। गणतंत्र दिवस पर अपने कॉलेज आरजी में पहुंची एयरफोर्स आफिसर रहीं एक्स स्कैवड्रन लीडर मीना अरोरा को अनुभव हुआ। कालेज में गणतंत्र दिवस की परेड में वह चीफ गेस्ट बन कर आईं थीं। कालेज में छात्राओं के साथ सभी शिक्षिकाओं ने उनका स्वागत तालिया बजा कर की। उस समय मीना अरोड़ा की आंखों में खुशी के आंसू छलक आए।

मीना आरजी से ही पढ़ाई पूरी की थीं। फिर उन्होंने एनसीसी ली, बाद में एयरफोर्स जॉइन किया। अपनी मेहनत और काबिलियत से वह स्कैवड्रन लीडर भी बनीं। करीब दस वर्ष एयरफोर्स में स्कैवड्रन लीडर रहीं। कालेज छोड़ने के सालों बाद वह गणतंत्र दिवस पर पहुंचीं। छात्राएं अपनी पुरातन छात्रा को देख कर उत्साहित रहीं।

एक्स स्कवैड्रन लीडर मीना ने अपने संबोधन में कहा कि जिस कालेज में वह पढ़ीं, वहीं चीफ गेस्ट बनना बड़ी बात है लग रहा सपना सच हो गया। उन्होंने कहा कि छात्राएं इंडियन एयरफोर्स जॉइन करें यहाँ बहुत कुछ करने का अवसर है। कहा कि वह पहली महिला थीं, जिन्होंने इमेजनरी इंटेलिजेंस में काम किया। मीना का कालेज की एनसीसी की तरफ से भी सम्मान किया गया। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.