UP TET Paper Leak: पेपर लीक में शामली के आरोपितों पर लगेगा गैंगस्‍टर,संपत्ति भी की जाएगी जब्‍त

UP TET Paper Leak टीइटी का पेपर लीक करने वालों पर पुलिस ने शिकंजा कस दिया है। तीन प्रिंटिंग प्रेस पर था छपाई का ठेका वहीं से लीक की संभावना। आरोपितों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी। एसटीएफ पूरे प्रकरण की गहनता से जांच कर रही है।

Prem Dutt BhattFri, 03 Dec 2021 09:50 AM (IST)
सिपाही के शिक्षक भाई की धरपकड़ को लगाई गई एसटीएफ।

मेरठ, जागरण संवाददाता। उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (यूपीटीईटी) का पेपर लीक करने के आरोपितों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट का मुकदमा दर्ज कर उनकी संपत्ति भी जब्त की जाएगी। दरअसल, टीईटी परीक्षा में नोएडा और दिल्ली की तीन प्रिंटिंग प्रेस को छपाई का ठेका दिया हुआ था। एसटीएफ का मानना है कि प्रिटिंग प्रेस में छपाई के दौरान पेपर लीक किया गया है। सिपाही के शिक्षक भाई की गिरफ्तारी के बाद ही पता चलेगा कि पेपर किस प्रिंटिंग प्रेस से लीक हुआ था।

एसटीएफ कार्रवाई को बढ़ा रही आगे

अलीगढ़ के हजियापुर टप्पल निवासी गौरव मलान की गिरफ्तारी के बाद साफ हो गया कि पेपर लीक कराने वाला सरगना अलीगढ़ के गोंडा निवासी निर्दोष चौधरी है। निर्दोष अलीगढ़ के प्राथमिक विद्यालय में शिक्षक है। निर्दोष का भाई उपदेश चौधरी यूपी पुलिस में सिपाही है, जिसकी तैनाती आगरा में चल रही थी। टीईटी परीक्षा निरस्त होने के बाद निर्दोष और उपदेश फरार हैं। निर्दोष के साथी विष्णु की भी कोई लोकेशन नहीं मिल रही है। उधर, शामली पुलिस की विवेचना में भी कार्रवाई आगे बढ़ रही है। एसटीएफ की तरफ से गिरफ्तार किए गौरव मलान, धर्मेंद्र, मोनू, रवि पर गैंगस्टर एक्ट में कार्रवाई की जा रही है, ताकि 14 ए के तहत उनकी संपत्ति जब्त की जा सके।

पांच लाख रुपये में बेचा था पेपर

एसटीएफ सीओ ब्रिजेश सिंह ने बताया कि निर्दोष और विष्णु की गिरफ्तारी के बाद ही पता चलेगा कि पेपर किस प्रिटिंग प्रेस से लीक किया गया। बता दें कि निर्दोष ने ही पेपर पांच लाख रुपये में गौरव मलान को बेचा था। गौरव मलान ने रवि, धमेंद्र, बबलू और मोनू को पेपर दो-दो लाख में बेचा था। उक्त चारों आरोपितों ने अभ्यर्थियों को पेपर पढ़ाने के एवज 50-60 हजार रुपये तक वसूले थे।

खंगाला जा रहा पूरा रिकार्ड

पकड़े गए आरोपित अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं में भी साल्वर बैठा चुके है। उनका बड़ा गैंग अन्य राज्यों में भी फैला है। एसटीएफ ने जेल गए आरोपितों का पुराना रिकार्ड भी खंगाला है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.