UP Assembly Elections 2022: मेरठ में अखिलेश और जयंत की परिवर्तन संकल्प रैली से प्रदेश में जाएगा नया संदेश

UP Assembly Elections 2022 भाजपा के साथ ही सपा और रालोद ने भी मिशन 2022 के लिए कमर कस ली है। सात दिसंबर को दबथुवा में होगी परिवर्तन संकल्प रैली। दोनों नेताओं की इस रैली से प्रदेश में नया संदेश जाएगा। तैयारियां हो रही हैं।

Prem Dutt BhattPublish:Sun, 28 Nov 2021 09:30 AM (IST) Updated:Sun, 28 Nov 2021 01:56 PM (IST)
UP Assembly Elections 2022: मेरठ में अखिलेश और जयंत की परिवर्तन संकल्प रैली से प्रदेश में जाएगा नया संदेश
UP Assembly Elections 2022: मेरठ में अखिलेश और जयंत की परिवर्तन संकल्प रैली से प्रदेश में जाएगा नया संदेश

मेरठ, जागरण संवाददाता। UP Assembly Elections 2022 लखनऊ में समाजवादी पार्टी सुप्रीमो अखिलेश यादव और राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष चौधरी जयंत सिंह के बीच मुलाकात के बाद संभावित गठबंधन को लेकर सरगर्मियां तेज हो गई हैं। रालोद के जिलाध्यक्ष मतलूब गौड़ ने बताया कि सात दिसंबर को दबथुवा में होने वाली परिवर्तन संकल्प रैली में जयंत के साथ अखिलेश भी आएंगे।

रैली को सफल बनाने की अपील

शनिवार को अजंता पेट्रोल पंप के परिसर में दोनों दलों के नेताओं ने रैली को सफल बनाने की अपील की। रालोद के क्षेत्रीय अध्यक्ष यशवीर सिंह ने कहा कि यह रैली प्रदेश में नया संदेश देने का काम करेगी। पूर्व विधायक गुलाम मोहम्मद ने कहा कि सात दिसंबर को होने वाली रैली में भारी भीड़ जुटेगी। पूर्व विधायक योगेश वर्मा ने कहा कि दोनों शीर्ष नेताओं के आगमन से लोगों में जबरदस्त उत्साह है।

भाजपा को शिकस्‍त की तैयारी

रालोद और सपा कार्यकर्ता रैली को सफल बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। सपा नेता अतुल प्रधान ने कहा कि सपा और रालोद का गठबंधन विधानसभा चुनाव में भाजपा को करारी शिकस्त देगा। बैठक को पूर्व मंत्री डा. मेराजुद्दीन, रालोद अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुकेश जैन, सपा के पूर्व जिलाध्यक्ष जयवीर सिंह, नरेंद्र खजूरी, विनय मल्लापुर, योगेश फौजी, सावित्री गौतम आदि मौजूद रहे।

चारू चौधरी ने ट्विटर पर मांगे उपयुक्तप्रत्याशियों के नाम

मेरठ : विधानसभा चुनावों को लेकर राजनीतिक दलों का पारा चढ़ा हुआ है। लखनऊ में पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और रालोद प्रमुख चौधरी जयंत सिंह के बीच मुलाकात के बाद दोनों दलों में हलचल बढ़ गई है। इसी बीच जयंत चौधरी की पत्नी चारू चौधरी भी इंटरनेट मीडिया में सक्रिय हो गई हैं। शनिवार को उन्होंने ट्वीट कर राष्ट्रीय लोकदल कार्यकर्ताओं से अपील की कि वे अपने क्षेत्र की विधानसभा सीट के लिए ईमानदार, मेहनती और संघर्षशील उम्मीदवारोंं के नाम कमेंट के माध्यम से बताएं। उनकी इस अपील को सीधे कार्यकर्ताओं से फीडबैक से जोड़कर देखा जा रहा है। उनके इस मैसेज के बाद बड़ी संख्या में लोगों ने अपने-अपने क्षेत्र उम्मीदवारों के नाम सुझाए। चारू ने अपना ट्विटर एकाउंट एक माह पूर्व ही बनाया है।