विधायक को लोकार्पण के दौरान तोड़ना था नारियल, टूट गई सड़क, बिजनौर के गांव अजीजपुरा का मामला

बिजनौर के हीमपुरदीपा क्षेत्र के गांव खेड़ा अजीजपुरा के नहर फाल से कस्बा झालू तक सिंचाई खंड बिजनौर की ओर से लगभग साढ़े सात किलोमीटर सड़क का निर्माण कराया गया है। ग्रामीणों ने सड़क निर्माण में घटिया सामग्री लगाने के आरोप लगाए।

Parveen VashishtaPublish:Thu, 02 Dec 2021 09:51 PM (IST) Updated:Fri, 03 Dec 2021 12:30 AM (IST)
विधायक को लोकार्पण के दौरान तोड़ना था नारियल, टूट गई सड़क, बिजनौर के गांव अजीजपुरा का मामला
विधायक को लोकार्पण के दौरान तोड़ना था नारियल, टूट गई सड़क, बिजनौर के गांव अजीजपुरा का मामला

बिजनौर, जागरण संवाददाता। सड़क निर्माण में बरती गई धांधली उस समय उजागर हो गई, जब सदर विधायक सुचि चौधरी एक नवनिर्मित सड़क का उद्घाटन करने पहुंचीं। विधायक ने जैसे ही सड़क पर नारियल फोड़ा नारियल तो फूटा नहीं, सड़क जरूर टूट गई। यह देख लोग भड़क गए। ग्रामीणों ने सड़क निर्माण में घटिया सामग्री लगाने के आरोप लगाए। इस पर हंगामा खड़ा हो गया।

116.38 लाख रुपये की लागत से हुआ निर्माण

हीमपुरदीपा क्षेत्र के गांव खेड़ा अजीजपुरा के नहर फाल से कस्बा झालू तक सिंचाई खंड बिजनौर की ओर से 116.38 लाख रुपये की लागत से लगभग साढ़े सात किलोमीटर सड़क का निर्माण कराया गया है। इसका निर्माण एक माह पूर्व शुरू हुआ था। लगभग 700 मीटर तक सड़क बन चुकी है।

सड़क का शुभारंभ करने पहुंचीं सदर विधायक

गुरुवार शाम सदर विधायक सुचि चौधरी व उनके पति भाजपा नेता ऐश्वर्य मौसम चौधरी इस सड़क का शुभारंभ करने पहुंचे। इस दौरान उनके साथ सिंचाई विभाग के अधिकारी भी थे। विधायक ने विधिवत रूप से जैसे ही नारियल तोड़ने के लिए पटका तो सड़क नीचे धंस गई।

ग्रामीणों ने किया हंगामा, विधायक धरने पर बैठीं

सड़क धंसते ही मौके पर मौजूद ग्रामीणों ने अधिकारियों पर सड़क निर्माण में घटिया सामग्री लगाने का आरोप लगाया और हंगामा शुरू कर दिया। सदर विधायक और भाजपा नेता ग्रामीणों के साथ धरने पर बैठ गए। उन्होंने इस संबंध में प्रशासनिक अधिकारियों को अवगत कराया। सीडीओ के निर्देश पर पीडब्ल्यूडी के ऐई एसपी सिंह, मामराज सिंह और जेई आजाद सिंह मौके पर पहुंचे। इस दौरान टीम अपने साथ खोदाई की सामग्री नहीं लेकर आई तो विधायक भड़क उठीं। उन्होंने अधिकारियों से दूसरी टीम भेजने के लिए कहा। देर रात अधिकारियों के नमूने जांच को भेजने और कार्रवाई के आश्‍वासन पर धरना समाप्‍त हुआ।

इन्होंने कहा

विधायक की शिकायत आई थी कि नवनिर्मित सड़क मानक के अनुरूप नहीं है। इस पर पीडब्ल्यूडी के एक्सईएन के नेतृत्व में टीम गठित कर जांच को भेजी गई है। रिपोर्ट आने के बाद अग्रिम कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

-केपी सिंह, सीडीओ बिजनौर

दो दिन पूर्व ही सड़क पर निर्माण कार्य पूरा हुआ था। शिकायत मिलने पर दूसरे विभाग की टेक्निकल टीम को जांच के लिए भेजा गया है। सैंपल लेकर जांच के लिए भेज दिए गए हैं। रिपोर्ट आने पर संबंधित कर्मियों के खिलाफ कार्यवाही होगी।

-विकास अग्रवाल, अधिशासी अभियंता, सिंचाई खंड बिजनौर